sggdgd

नई दिल्ली | कभी कभी खेल खेल में कुछ ऐसी घटनाएं घटित हो जाती है जो ताउम्र याद रहती है. कोई भी खेल जब खेल भावना से खेला जाता है तब सभी उस खेल और खिलाडियों की तारीफ करते है. लेकिन कभी कभी ऐसे भी क्षण आते है जब खिलाडी केवल जीत की और देख रहा होता है और वो इसके लिए खेल भावना को भी ताक पर रख देता है. लेकिन ऐसे क्षण भी खेलो में खूब है जब खेल भावना के आगे हार जीत सब गौण हो जाती है.

एक ऐसी ही घटना 2014 एशियाई गेम में हुई. भारतीय महिला कब्बडी टीम फाइनल मैच में ईरानी महिलाओं से भीड़ रही थी. मैच अपने रोमांच पर था , तभी मैच में ऐसा क्षण आया जब हर कोई भारतीय टीम की तारीफ कर रहा था. दरअसल मैच के दौरान जब ईरानी खिलाडी भारतीय पक्ष की और पहुंची तो भारतीय खिलाडियों ने ईरानी खिलाडी को पकड़कर जमीन पर गिरा दिया.

जमीन पर गिरने की वजह से ईरानी खिलाडी का हिजाब उतर गया लेकिन भारतीय खिलाडियों ने बिना किसी झिझक के खेल को बीच में रोक दिया. भारतीय खिलाडियों ने ईरानी खिलाडी को पूरा मौका दिया की वो अपना हिजाब सही कर सके. जिस समय यह वाकया हुआ , उस समय अगर भारतीय खिलाडी चाहती तो अपनी टीम के लिए एक अंक अर्जित कर सकती थी लेकिन उन्होंने ऐसा न करके , खेल भावना की एक बड़ी मिसाल कायम की.

दरअसल ईरान की खिलाडी हिजाब पहनकर खेलती है. कबड्डी में ईरानी खिलाडी ऊपर से नीचे तक ढके लिबास पहनती है और सर पर उनके हिजाब लगा रहता है. यह उनकी परम्परा है और भारतीय खिलाडियों ने उनकी परम्पराओ का सम्मान कर सबका दिल जीत लिया. यह विडियो आजकल सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है.

देखे विडियो


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें