नई दिल्ली । एक एनआरआई महिला को न्याय के लिए सोशल मीडिया का सहारा लेना पड रहा हैं. सोशल मीडिया पर शेयर किये गए विडियो में उन्होंने अपनी आपबीती बयान की है। पीड़ित महिला अपनी शिकायत लेकर पुलिस के पास गई थी लेकिन वहां उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई।

पीड़ित महिला ने बताया कि वह अपने चचेरे भाई के साथ कनाडा से पंजाब आई थी। मानसिक तौर पर परेशान होने के कारण उसके भाई उसे रूहानी इलाज के नाम पर संगरूर के बालेवाल डेरा लेकर गया जहां वह करीब दो महीने रही। महिला ने आरोप लगाया है कि जब उसका भाई डेरे से चला गया तो डेरा प्रमुख गुरजंट सिंह ने उसका पासपोर्ट छीन लिया और डेढ़ माह तक रेप करता रहा।

एक दिन मोका पाकर वह डेरे से अपना पासपोर्ट निकाल कर भागने में सफल हो गई। इसके बाद वह सीधे पुलिस थाने पहुंची, लेकिन पुलिस ने मामला दर्ज करने के बजाए उसे एक थाने से दूसरे थाने के चक्कर लगवाती रही। अंत में उसकी मुलाकात एक वकील से हुई और उन्होंने मोहाली स्थित एनआरआई विंग में शिकायत दर्ज कराने की सलाह दी।

पीड़ित ने मीडिया को बताया कि वीडियो वायरल होने के बाद उसे जान से मारने कि धमकियां मिल रही हैं। महिला ने कहा कि अब उन्हें एनआरआई विंग से न्याय की उम्मीद है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें