अगर जुगाड़ शब्द की उत्पत्ति की जा रही होगी तब उस महफ़िल में हॉस्टल वाले बीच में बैठकर ज़रूर सुट्टा फूक रहे होंगे.. तभी तो सबसे ज्यादा जुगाड़ सामग्री अगर कहीं देखने को मिलती है तो हॉस्टल ही एक मात्र स्थान है. वैसे तो सीधे साधे जूनियर को जुगाड़ विधि सीखने में शायद 1-2 वर्ष का टाइम लगता है लेकिन प्लेसमेंट से पहले वो ‘प्रेस’ से चाय बनाना,खाना गर्म करना, ब्लेड से नहाने का पानी उबालना जैसी विधि तो सीख ही जाता है. कुछ सॉलिड जुगाडू तो अपने बिस्तर के पास हुक लगा डंडा भी रखते है … क्या पता .. बिस्तर पर लेटे लेटे किस चीज़ की ज़रुरत पड़ जाये .. और कौन उठने का तकल्लुफ करे…

तो साब आपके लिए पेश है जुगाड़ विधि -:


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें