पिछले दिनों से बीसीसीआई में उठापटक का दौर जारी है जो रवि शास्त्री की तरफ झुकता नज़र आ रहा है. आजतक की खबर के मुताबिक यह लगभग तय हो चूका है की गेंदबाज़ी का कोच भरत अरुण को बनाया जायेगा तथा इसकी अधिकारिक घोषणा किसी भी समय की जा सकती है.

गौरतलब है की विराट कोहली की सिफारिश मानकर रवि शास्त्री को टीम इंडिया का कोच बनाया गया है और अब रवि शास्त्री की सिफारिश पर भरत अरुण को गेंदबाज़ी का कोच बनाया जाये. इसके बाद यह मानकर चलना चाहिए की ज़हीर खान का पत्ता कट चूका है. हालाँकि, सीओए के एक सदस्य का कहना है कि राहुल द्रविड़ और जहीर खान की सेवाएं भी ली जाएंगी, लेकिन ये जरूरत के मुताबिक होंगी।

सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण वाली क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) ने शास्त्री को बतौर हेड कोच चुना, लेकिन इसके अलावा गेंदबाजी कोच के रूप में जहीर खान और विदेशी दौरों के लिए राहुल द्रविड़ को बल्लेबाजी सलाहकार की जिम्मेदारी सौंपी। इसके बाद सपोर्ट स्टाफ को लेकर उथल-पुथल मची और द्रविड़ व जहीर खान की नियुक्ति पर कोई स्पष्ट स्थिति अब तक नहीं बनी।

बड़ी बात ये भी रही कि सीओए ने सीएसी पर आरोप लगाया कि बिग-3 क्रिकेटरों ने अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर जाकर जहीर और द्रविड़ को नियुक्त किया। सीओए की नाराजगी को बल रवि शास्त्री के बयान से भी मिला, जब उन्होंने कहा कि वो बतौर गेंदबाजी कोच भरत अरुण को जोड़ना चाहते हैं। इसके चलते ये स्पष्ट होने लगा था कि टीम इंडिया के फुल टाइम गेंदबाजी कोच के रूप में अरुण का चुना जाना तय है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE