vendors-are-selling-more-than-prices

आमतौर पर हम अपनी बिजी लाइफ में इतने अधिक मशगूल हो चुके है की कभी कभी एमआरपी से भी अधिक मंहगा सामान खरीद लेते है हालाँकि एमआरपी से ज्यादा कीमत का सामान बेचना कानूनन जुर्म है और पूरी दुनिया में भारत एक ऐसा सौभाग्यशाली देश है जहाँ इस तरह का कानून बनाया गया है जो ग्राहकों के हितों की रक्षा करता है. क्या अपने रेलवे पर कोल्ड ड्रिंक या चिप्स के पैकेट ख़रीदते हुए उसकी कीमत चेक की है? क्या पानी की बोतल जो मार्किट में आसानी से 15 रुपए की मिल रही है वो आप 20 की खरीदकर यह सोचकर चुप हो जाते हो की मुझे क्या मतलब ?

आज एक ऐसे ही मामले में रेल मंत्रालय से लेकर irctc तथा खुद रेल मंत्री को इसका जवाब देना पड़ गया. मामला पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 5 का है जहाँ एक यात्री ने जब प्लेटफार्म पर स्थित वेंडर से पानी की बोतल खरीदी तब वो बोतल जिसपर 15 रुपए एमआरपी प्रिंट था यात्री को 20 रुपए की दी गयी. जब इसकी शिकायत वेंडर से की गयी तब उसने पानी की बोतल 20 रुपए में ही बेचने की बात की. यात्री ने तुरंत इसका शिकायत रेलवे मिनिस्टर सुरेश प्रभु से की जिसके बाद पुरे दिल्ली रेलवे में खलबली मच गयी.

 

यात्री ने रेल मंत्री सुरेश प्रभु को ट्वीट करते हुए लिखा की पुरानी दिल्ली स्टेशन पर प्लेटफार्म नॉ 5 पर प्रिंटेड रेट से अधिक कीमत पर सामान बेचा जा रहा है. इस पर आप क्या कर सकते है ? जिसके तुरंत बाद यह मामला मिनिस्ट्री ऑफ़ रेलवे को स्थानांतरित कर दिया गया जिसपर दिल्ली रेलवे ने यह मामला irctc के पास भेजा जिसने तुरंत यात्री को समानं बेचने वाले वेंडर तथा वस्तु की जानकारी ली और मामले को संज्ञान में लिया. खबर लिखे जाने तक irctc ने कोई निर्णय ही लिया है ..


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें