जरा आप भी गौर फरमाइए Arvind Kejriwal के एक साल के कामकाज पर

दिल्ली के मुख्यमंत्री Arvind Kejriwal 14 फरवरी को अपनी सरकार का एक साल पूरा कर लेंगे। Kejriwal सरकार के पहली सालगिरह के मौके पर पूरी मीडिया में सर्वे का दौर चल पड़ा है। हर कोई अपने हिसाब से सर्वे के रिजल्ट को पेश कर रहा है। करीब डेढ़ करोड़ के आसपास के मतदाताओं वाली दिल्ली में मीडिया सर्वे का आंकलन चंद हजार सैंपल पर किया जा रहा है। किसी का सैंपल साइज चार हजार है तो किसी को पांच हजार। यानी 70 विधानसभा सीट वाली दिल्ली में जितना एक सीट पर जीत हार का मार्जिन हुआ करता था। उससे भी कहीं कम के सैंपल साइज पर पूरी की Arvind Kejriwal की सरकार का आंकलन किया जा रहा है। खैर से लोकतंत्र की आजादी का एक हिस्सा है। जिस पर नो कमेंट कहा जा सकता है।

लेकिन, हम खुद दिल्ली के वासी होने के कारण Arvind Kejriwal की सरकार के एक साल के कामकाज का आकलन पेश कर सकते हैं। Kejriwal सरकार के कामकाज का ये वो हिसाब है जो पब्लिक डोमेन में हैं। जिसमें ना तो भविष्य की योजनाएं शामिल हैं। ना ही चुनावी वादे हैं। ये विशुद्ध तौर पर 24 उन कामों की लिस्ट है जो लागू हो चुकी हैं। इस लिस्ट में विवादास्पद योजनाओं और परवान ना चढ़ पाने वाली योजनाओं तक को भी शामिल नहीं किया गया है। जरा आप भी गौर फरमाइए Arvind Kejriwal के एक साल के कामकाज पर।

arvind_kejriwal_1

1. बीस हजार लीटर पानी फ्री

2. चार सौ यूनिट तक बिजली के दाम आधे किए

3. सरकारी कामकाज में शपथपत्र की बाध्यता को खत्म किया

4. सरकारी दवाओं में मुफ्त दवाएं उपलब्ध कराई गईं।

5. मोहल्ला क्लीनिकों की शुरुआत की

6. दिल्ली में इंद्रधनुष योजना के तहत एक हजार केंद्रों पर बच्चों के टीकाकरण की सुविधा की गई।

7. ऑड इवेन फार्मूले से ना सिर्फ प्रदूषण कम करके दिखाया बल्कि ट्रैफिक भी कम करके दिखाया

8. दिल्ली में प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए हर महीने की 22 तारीख को कार फ्री डे बनाए जाने की योजना शुरु की

9. दिल्ली में प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए ट्रकों की नो एंट्री का टाइम कम किया गया। अब रात 11 बजे से खुलती है नो इंट्री

10. ऑटो वालों की मनमानी पर लगाम लगाई। ड्यूटी खत्म करके लौटकर घर जाते वक्त भी ऑटो वालों को बताना होगा कि वो कहां जा रहे हैं।

11. लोगों के लिए मुसीबत का सबस बने BRT कॉरीडोर को खत्म किया गया

12. यमुना आरती शुरु कराई, यमुना की सफाई पर काम शुरु हुआ, जो अभी भी जारी है

13. बवाना और द्वारका में 12 साल पहले बनकर तैयार जल शोधन संयंत्र को चालू कराया

14. 70 फीसद टैंकरों की आपूर्ति बंद हो गई। यानी जिन इलाकों में जलबोर्ड का पानी नहीं पहुंच पाता था वो अब पहुंचने लगा है।

15. ऑनलाइन की गई नर्सरी में EWS कोटे की दाखिला प्रक्रिया

16. निजी स्कूलों में 62 तरह के मैनेजमेंटे कोटों को खत्म किया था। हालांकि बाद में 11 कोटों को कोर्ट ने बरकरार रखा है। फिर भी 53 गैर जरुरी कोटे खत्म हुए हैं।

17. 54 मॉडल स्कूल बनाए गए

18. स्कूलों में सफाई व्यवस्था जांचने के लिए कमेटियों का गठन किया गया

19. बिल बनाओ इनाम पाओ योजना की शुरुआत की

20. आबकारी विभाग में इंस्पेक्टर राज खत्म

21. PWD ने ओवर ब्रिज बनाने का काम वक्त से पहले खत्म कर करोड़ों रुपए बचाए

22. भ्रष्टाचार से निपटने के लिए ACB को मजबूत बनाया था, हेल्प लाइन भी शुरु किया गया था (लेकिन, अब ACB LG या कहें केंद्र सरकार के अधीन है)

23. फसल बरबाद होने पर किसानों को सबसे ज्यादा मुआवजा दिया

24. पुरानी झुग्गियों को ना तोड़ने के वादे पर कड़ाई से पालन किया, इस वादे को लेकर दिल्‍ली सरकार और केंद्र के बीच टकराव भी हुआ।

Arvind Kejriwal सरकार के 12 महीने के ये वो 24 बड़े काम हैं जो जनता के बीच हैं। जिन्‍हें कोई नकार नहीं सकता है। बस काम को काउंट करने का तरीका बदल सकता है। (indiatrendingnow)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें