अंडर-19 वर्ल्ड कप 2015 में टीम इंडिया को फाइनल तक पहुंचाने में अहम रोल अदा करने वाले एक भारतीय खिलाड़ी पर वेस्टइंडीज के धमाकेदार ओपनर क्रिस गेल फिदा हो गए हैं और उन्हें अपने बेटे के समान बताया है। दरअसल इन दिनों खेले जा रहे आईपीएल के सीजन 9 में भी इस खिलाड़ी ने अपनी बल्लेबाजी से सबको अपना दीवाना बना दिया। उनकी पारी के मुरीदों में विराट कोहली, शेन वॉटसन और डेविड वॉर्नर जैसे कई दिग्गज शामिल हैं। जानना चाहेंगे यह युवा बल्लेबाज कौन है। यह और कोई नहीं बल्कि भारतीय क्रिकेट के उभरते सितारे सरफराज खान हैं, लेकिन क्या आपको मालूम है कि उनके पिता ने एक क्रिकेटर का ताना सुनने के बाद सरफराज को क्रिकेट के लिए प्रेरित किया और आर्थिक हालात अच्छे नहीं होने के बावजूद अपने सपने को पूरा किया।

sarfaraz khan ipl

…तुम्हारे में टैलेंट है तो अपने बच्चों को खिलाकर दिखाओ
दरअसल सरफराज खान के पिता नौशाद की मानें तो वह स्पिनर इकबाल अब्दुल्ला को बचपन में उत्तरप्रदेश से मुंबई लाए थे और उन्हें बड़ा क्रिकेटर बनाना चाहते थे। इकबाल ने नौशाद की देखरेख में क्रिकेट सीखा और अंडर-19 टीम इंडिया के लिए खेलते हुए आईपीएल में भी नाम कमाया, लेकिन जब नौशाद को उनकी मदद की आवश्यकता हुई तो उन्होंने ताना देते हुए कहा, ‘मेरे में काबिलियत थी, तो मैं खेला। तुम्हारे में टैलेंट है तो अपने बच्चों को खिलाकर दिखाओ।’

फिर क्या था यह बात नौशाद को चुभ गई और उन्होंने इकबाल अब्दुल्ला का चैलेंज स्वीकार करते हुए सरफराज को बड़ा क्रिकेटर बनाने का फैसला कर लिया और आज वह इसमें सफल होते हुए दिख रहे हैं।

फिदा हुए दिग्गजों ने कहा-
आईपीएल-2016 में सरफराज की पारी के बाद क्रिस गेल ने कहा, ‘सरफराज मेरा पक्का यार है। वह मेरे लिए बेटे के समान है। वह अधिकांशतः मेरे कमरे में ही ठहरता है। उसने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ जिस तरह का खेल दिखाया वह बेमिसाल रहा। वह ऐसा खिलाड़ी है जिसे देखना आनंददायक होता है।’

ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर शेन वॉटसन ने कहा, ‘सरफराज बेहतरीन बल्लेबाज है जिसका अपने शॉट पर शानदार नियंत्रण है। इसमें कोई शक नहीं कि इस तरह के शॉट पर उसने बेहद कड़ी मेहनत की है। इससे पहले कभी उसके जैसी युवा प्रतिभा नहीं देखी।’

भुवी-मुस्तफिजुर रहे निशाने पर
आपके मन में सवाल होगा कि आखिर सरफराज ने ऐसा कौन-सा प्रदर्शन किया है, कि सब दीवाने हो गए हैं। दरअसल उन्होंने 12 अप्रैल, 2016 को बेंगलुरू में खेले गए आईपीएल मैच में विस्फोटक पारी खेली। यह मैच रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेला गया था। सरफराज ने 10 गेंदों में 5 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 35 रन की शानदार पारी खेली। इसमें उन्होंने 18वें ओवर में भुवनेश्वर कुमार जैसे स्विंग के उस्ताद की अंतिम 4 गेंदों पर 22 रन जड़ दिए, जिसमें एक छक्का और 4 चौके शामिल रहे। इसके बाद उन्होंने बांग्लादेश के स्टार तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान की भी खूब खबर ली और 20वें ओवर में उनकी गेंदों पर एक छक्के और एक चौके के साथ 12 रन ठोक दिए।

आक्रामक अंदाज है सरफराज का, द्रविड़ ने संवारा
18 वर्षीय सरफराज नैचुरल रूप से आक्रामक बल्लेबाज हैं, लेकिन उन्होंने मुश्किल परिस्थितियों में टिककर खेलना भी सीख लिया है। इसमें अंडर-19 टीम के कोच राहुल द्रविड़ की अहम भूमिका रही है। खुद सरफराज ने इसका श्रेय द्रविड़ को देते हुए कहा है कि उन्होंने उनकी बैटिंग में अनुशासन लाने में मदद की है।

अब तक के करियर पर एक नजर
अंडर-19 टीम से सरफराज ने 33 वनडे खेले हैं, जिनमें 1080 रन बनाए हैं, जिनमें एक शतक और 11 फिफ्टी शामिल हैं। उनका बेस्ट 101 रन रहा। अब जरा उनके औसत पर नजर डालिए, जो उनकी महारत की कहानी बयां करता है। उन्होंने यह रन 51.42 के औसत से बनाए हैं।

U-19 वर्ल्डकप में छाए
मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज सरफराज ने U-19 वर्ल्डकप में शानदार प्रदर्शन किया था। वर्ल्डकप के अपने 6 मैचों में उन्होंने 334 बनाकर 5 अर्द्धशतक जड़े थे, जबकि एक मैच में वह 21 रन बनाकर नाबाद रहे थे।

सरफराज ने अब तक खेले 6 फर्स्ट क्लास मैचों में 37.37 की औसत से 299 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका सर्वाधिक स्कोर 155 रन रहा है। टी-20 की बात करें तो उनके नाम 20 मैचों में 217 रन हैं, जिनमें उनका बेस्ट 45* है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें