नयी दिल्ली – टाइम्स नाउ न्यूज़ चैनल पर पैगम्बर मुहम्मद साहब (स.अ.व.) पर टिप्पणी करने वाले पूर्व रॉ अधिकारी आरएसएन सिंह को लेकर मुस्लिम समाज में आक्रोश है. आरएसएन सिंह को टाइम्स नाउ तथा रिपब्लिक चैनल पर बतौर मेहमान आमंत्रित किया जाता है और आरएसएन सिंह से धर्म विशेष पर टिप्पणी कराई जाती है. इस तरह की टिप्पणी करने से एक समुदाय में आक्रोश तो उत्पन्न होता ही है साथ ही साथ सुरक्षा एजेंसी के बड़े अधिकारी के मुंह से अपने धर्म के प्रति ऐसे विचार सुनकर असुरक्षा की भावना जन्म ले सकती है.

टाइम्स नाउ चैनल पर आरएसएन सिंह ने पैगम्बर साहब के खिलाफ भी ऐसी ही टिप्पणी की है हालांकि इस पर जानकारी देते हुए राॅ के एक पूर्व अधिकारी आर के यादव ने RSN सिंह के दावों को खारिज करते हुए बताया कि वह राॅ का व्यक्ति नहीं है।

इस ‘जालसाज’ व्यक्ति RSN सिंह के बारें में इस जानकारी को भी आर के यादव ने ट्वीट कर शेयर किया। जबकि टीवी डिबेट में पैगंबर मुहम्मद (PBUH) का अपमान करने वाले RSN सिंह के बारें में बताया गया कि यह वास्तव में,  राॅ से नहीं बल्कि सेना जुड़ा हुआ था और उन्हें एजेंसी ने संक्षिप्त कार्यकाल के लिए नियुक्त किया था।

उन्हें कभी पाकिस्तान डेस्क नहीं सौंपा गया था लेकिन बांग्लादेश सेना की देखभाल करने के लिए उन्हें रखा गया था। उन्होंने दो साल का कार्यकाल भी पूरा नहीं किया, यह जानकारी IE की रिपोर्ट में सामने आई थी।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE