नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) डिप्टी एसपी तंजील अह्मद हत्याकांड प्रकरण में यूपी पुलिस के दावे पर सवालिया निशान उठने लगे हैं. पुलिस की थ्योरी के मुताबिक पूरा मामला संपत्ति विवाद से जुड़ा है और तंजील की हत्या उनके ही रिश्तेदार ने की है. इसी संबंध में पुलिस ने दो लड़कों रेहान और मुनीर को गिरफ्तार किया है जबकि सात अन्य को लेकर पूछताछ कर रही है.

NIA अफसर तंज़ील हत्याकांड: पुलिस के दावे पर उठे ये पांच सवाल

पुलिस के दावे पर यह है पांच सवाल

  1. अगर तंजील की हत्या प्रॉपर्टी को लेकर हुई तो हत्यारों ने बच्चों और पत्नी को क्यों नहीं मारा.
  2. जब मौत एक गोली से हुई तो 24 गोलियां क्यों मारी.
  3. टेरर एंगल को नकारने की कोशिश पुलिस जांच से पहले ही क्यों करने लगी. इतना ही नहीं आरोपियों की गिरफ्तारी से पहले ही कैसे कह सकती है की मामला प्रॉपर्टी विवाद से जुड़ा है.
  4. मुनीर की लोकेशन भी तरके नहीं थी और पुलिस ने उसे शार्प शूटर बताया.
  5. क्या पुलिस को पता है कि बिजनौर में सिमी के कितने स्लीपर सेल हैं. पुलिस इस हाई-प्रोफाइल केस में जांच छ दिनों के बाद भी मीडिया से क्यों कन्नी काट रही है?

इस बीच तंजील के परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा है कि वह जांच को गलत दिशा में लेकर जा रही है. उनका आरोप है कि पुलिस के प्रॉपर्टी विवाद के दावे झूठे हैं. पुलिस यह भी नहीं बता रही कि वह कौन सी विवादित प्रॉपर्टी है.

दूसरी तरफ हत्या के मुख्य आरोपी मुनीर और रेहान के जानने वालों के मुताबिक पुलिस ने निर्दोषों को उठाया है. गांव वालों का कहना है कि दोनों नाबालिग हैं और इतनी बड़ी वारदात को अंजाम नहीं दे सकते. (pradesh18.com)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें