muslim-should-not-fear-of-rss-says-justice-ahmadi

अहमदाबाद: भारत के पूर्व प्रधान न्यायाधीश ए एम अहमदी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर परोक्ष हमला बोलते हुए आज मुस्लिमों से कहा कि वे निक्कर पहनकर और लाठी (संगठन की पारंपरिक पोशाक) लेकर चलने वालों से ‘‘भयभीत’’ होकर मतदान नहीं करें.

उन्होंने प्रदेश कांग्रेस की ओर से शहर के बाहर स्थित मुस्लिम बहुल सरखेज इलाके में आयोजित एक कार्यक्रम में आरएसएस का नाम लिए बिना कहा, ‘‘उन लोगों से भयभीत नहीं हों जो निक्कर पहनकर और हाथों में लाठियां लेकर सड़कों पर निकलते हैं. वे चुनावों के दौरान ही बाहर निकलते हैं ताकि लोगों में भय उत्पन्न किया जा सके. ये चुनावी प्रक्रिया का हिस्सा होता है.’’ अहमदी ने मुस्लिमों से अनुरोध किया कि वे भयभीत होकर मतदान नहीं करें.’

अहमदी अक्टूबर 1994 से मार्च1997 तक भारत के चीफ जस्टिस रहे हैं. इस कार्यक्रम में उनके साथ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी भी मौजूद थे.
और पढ़े -   मोहम्मद शमी की वाइफ और इरफ़ान की वाइफ में क्या समानता है?

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE