“मुरथल में कुछ महिलाओं के साथ कथित यौन उत्पीड़न की घटनाओं के संबंध में जानकारी हासिल करने के लिए हरियाणा पुलिस ने शुक्रवार को तीन अधिकारियों के जो नंबर जारी किए उनमें से एक नंबर इंदौर के एक व्यक्ति का था। हरियाणा पुलिस के नंबर जारी करते ही उस व्यक्ति को इस संबंध में शुक्रवार से लगातार फोन आ रहे हैं।”

जाट आंदोलन के दौरान मुरथल मे कुछ महिलाओं से कथित यौन उत्पीड़न के मामले के तूल परड़ने के बाद राज्य पुलिस द्वारा जानकारी इकट्ठी करने के उद्देश्य से जारी किए गए तीन नंबरों में से एक इंदौर के एक शख्स का है। हरियाणा पुलिस के नंबर जारी करने के बाद नंबर पर लगातार फोन आने से परेशान होकर उस शख्स ने स्थानीय पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई है। मामले का खुलासा तब हुआ जब एक पत्रकार ने हरियाणा के पुलिस महानिदेशक वाई पी सिंघल द्वारा कल दिए गए तीन सदस्यीय महिला पुलिस अधिकारियों के दल की प्रमुख डीआईजी राजश्री सिंह के मोबाइल नंबर पर फोन लगाया तो उसे इंदौर के एक व्यक्ति ने रिसीव किया।

jat-1-620x400उस व्यक्ति ने पत्रकार से तत्काल सवाल किया कि क्या वह बलात्कार के कथित मामलों के बारे में जानकारी चाहते हैं। जब उस व्यक्ति से पत्रकार ने कहा कि वह डीआईजी राजश्री से बात करना चाहते हैं तो इंदौर निवासी ने कहा कि यह डीआजी का नंबर नहीं है। उस व्यक्ति ने कहा कि कल से ही उसे बार-बार फोन आ रहे हैं और इस कारण वह बहुत परेशान हो चुका है। उस व्यक्ति ने बताया, मैंने स्थानीय पुलिस में इस बाबत शिकायत दर्ज कराई है। फोन डायरेक्ट्री एप्प पर वह नंबर डीआईजी राजश्री की जगह मध्य प्रदेश सर्किल के किसी अन्य व्यक्ति के नाम पर दर्ज दिखा जबकि बाकि दो अधिकारियों का नंबर एप्प पर दिए गए विवरण से मेल खा रहा है। (Outkook)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें