16 साल की उम्र में देश की सबसे कम उम्र में पायलट बनकर इतिहास रचने वाली आयशा अज़ीज़ को अब कमर्शल पायलट का लाइसेंस मिलने वाला हैं. जिसकी बदोलत वे अब पैसेंजर फ्लाइट भी उड़ा सकेंगी.

आयशा को 2011 में पायलट का लाइसेंस मिला गया था. महज 16 साल की उम्र में उन्होंने ये लाइसेंस हासिल किया था. इस वक्त उन्होंने दसवीं की परीक्षा ही दी थी. आयशा ने ट्रेनिंग के दौरान उन्होंने एक इंजन वाले हवाई जहाज को 200 घंटों तक उड़ाया है.

आयशा अजीज अपनी कामयाबी का श्रेय अपने पिता अब्दुल अजीज को देती हैं. अजीज जब छोटी थीं तो वह अपनी मां के साथ श्रीनगर की हवाई यात्राएं करती थीं. वह कहती हैं, ‘मैं पायलटों को देखकर बहुत खुश होती थी, वे मुझे आकर्षित करते थे. जैसे-जैसे मैं बड़ी हुईं पायलटों के प्रति मेरे मन में आकर्षण बढ़ता गया और आखिरकार मैंने बॉम्बे फ्लाइंग क्लब में दाखिला ले लिया.’

आयशा ने 2012 में अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी NASA में ट्रेनिंग के लिए गई थीं वहां उन्होंने सुनीता विलियम्स से मुलाकात की जिसे वह एक यादगार मुलाकात बताती हैं. आयशा न सिर्फ एक पायलट हैं बल्कि वह टीवी पर आने वाले कुछ विज्ञापनों के अलावा कई बड़ी मैगजींस के फोटोशूट का भी हिस्सा रह चुकी हैं. उन विज्ञापनों में उन्हें फर्राटे से हवाई उड़ान भरते देखा जा सकता है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE