नई दिल्ली : भाजपा ने पार्टी से निलंबित किए गए सांसद कीर्ति आजाद को एक कारण बताओ नोटिस देते हुए उनसे दस दिन के भीतर यह साफ करने के लिए कहा कि उन्हें ‘अनुशासनहीनता’ और ‘पार्टी विरोधी’ गतिविधियों के लिए पार्टी से क्यों ना निष्कासित कर दिया जाए। कीर्ति इस नोटिस का आज जवाब दे सकते हैं । भाजपा सूत्रों ने कहा कि नोटिस किसी पार्टी नेता के निलंबन के बाद की जाने वाली मानक कार्रवाई है और दिल्ली जिला क्रिकेट संघ को लेकर वित्त मंत्री के खिलाफ हमला जारी रखने वाले आजाद के निष्कासन का फैसला उनके जवाब पर निर्भर करेगा।

kirti-azad-56783c35b62b8_exlst

बिहार के दरभंगा के तीन बार के सांसद आजाद के करीबी सूत्रों ने कहा कि वह अपने जवाब के साथ ‘तैयार’ हैं और उसे कल पार्टी मुख्यालय में भेज देंगे। पूर्व में आजाद के निलंबन पर सवाल करने वाले पार्टी नेता सुब्रहमण्यम स्वामी ने उनका जवाब तैयार करने में मदद की है। आजाद ने डीडीसीए में कथित भ्रष्टाचार को लेकर जेटली को निशाने पर लेना जारी रखा है और साथ ही क्रिकेट प्रशासन में कथित गड़बड़ियों को लेकर पार्टी सांसद एवं बीसीसीआई के सचिव अनुराग ठाकुर के अलावा कांग्रेस के राजीव शुक्ला पर भी हमला किया।

कारण बताओ नोटिस में आजाद की ‘पार्टी विरोधी’ गतिविधियों की बात की गयी है, जिनमें लोकसभा में डीडीसीए के मामलों की जांच की उनकी मांग और लगातार लगाए जा रहे उनके आरोप शामिल हैं जबकि भाजपा और सरकार ने विपक्षी दलों कांग्रेस और आप द्वारा लगाए गए इसी तरह के आरोपों का खंडन किया है।

http://zeenews.india.com/


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें