कुछ जानने का सीधा और सरल उपाय आज के समय में है गूगल। बोलचाल में भी बोला जाने लगा है अरे गूगल बाबा से पूछ लो, उनको सब आता है। इंटरनेट सर्च की दुनिया में गूगल की बादशाहत है। मगर अब गूगल के इस कब्जे को कमजोर करने के लिए विकिपीडिया आगे आ रहा है। कंपनी जल्द ही ‘नॉलेज इंजन’ नाम का नया सर्च इंजन लॉन्च कर सकती है, जो विकिपीडिया और उससे जुड़ी वेबसाइटों पर मौजूद सामग्री को खंगालने की सुविधा देगा।

गूगल बाबा को चुनौती देगा WIKI का ये नॉलेज इंजन

खास बात यह है कि विकिपीडिया का सर्च इंजन विज्ञापन मुक्त होगा। यूजर एक क्लिक पर सामग्री का स्रोत तो खंगाल ही सकेंगे, साथ में सोशल साइट पर उसे दोस्तों से शेयर भी कर पाएंगे।

अल्फाबेट के ‘गूगल सर्च’ और माइक्रोसॉफ्ट के ‘बिंग’ को टक्कर देने के लिए विकिपीडिया जल्द ही ‘नॉलेज इंजन’ लॉन्च कर सकता है। अमेरिका के जॉन एस और जेम्स एल नाइट फाउंडेशन ने नए सर्च इंजन के निर्माण के लिए विकिमीडिया फाउंडेशन को 2.5 लाख डॉलर (लगभग 1.7 करोड़ रुपए) की आर्थिक मदद उपलब्ध कराई है। कंपनी का दावा है कि ‘नॉलेज इंजन’ पर यूजर को सही और विश्वसनीय सामग्री मिलेगी। वे एक ही क्लिक पर पता लगा सकेंगे कि सामग्री कहां से उत्पन्न हुई है और उस पर कितना भरोसा किया जा सकता है।

प्राइवेसी का ख्याल
विकिपीडिया के मुताबिक ‘नॉलेज इंजन’ के लिए यूजर की प्राइवेसी सबसे ज्यादा मायने रखेगी। सर्च इंजन पर कौन क्या सामग्री खंगाल रहा है, इसकी जानकारी विज्ञापनदाताओं से नहीं साझा की जाएगी। इतना ही नहीं, ‘नॉलेज इंजन’ को विज्ञापनमुक्त सेवा रखने पर विचार किया जा रहा है। इस पर कोई भी सामग्री विज्ञापन नहीं, बल्कि वेबसाइट की लोकप्रियता और विश्वसनीयता के आधार पर दर्शाई जाएगी।

विश्वसनीय जानकारी
‘नॉलेज इंजन’ पर कोई भी सामग्री कहां से आई है, उसे कब-किसने अपलोड किया है और वह कितनी भरोसेमंद है, इसकी जानकारी सर्च के नतीजों के साथ उपलब्ध कराई जाएगी। यूजर जब कोई सामग्री खंगालने के लिए सर्च बॉक्स में उससे जुड़े शब्द डालेगा तो संबंधित शब्द के जितने भी मायने निकलते हैं, उसे पिरोने वाली सामग्री स्क्रीन पर हाजिर होगी। किसी सामग्री से जुड़े आंकड़े भी सर्च के नतीजे के साथ ही दिए जाएंगे।
न्यूज साइट होगी खास कंपनी ‘नॉलेज इंजन’ की न्यूज साइट को बिल्कुल अलग अंदाज में पेश करने की योजना बना रही है। इसके सर्च बॉक्स के नीचे यूजर को ‘टुडे’, ‘नियरबाई’, ‘इमेजेज’, ‘प्रिंट’ और ‘वीडियोज’ का विकल्प मिल सकता है। फिर एक पंक्ति में फोटो और उसके निचले हिस्सों में टेक्स्ट में मौजूद सामग्री उपलब्ध कराई जा सकती है। सबसे निचले हिस्से में एक अतिरिक्त विंडो दी जा सकती है, जिसमें खबर से जुड़े तथ्य, आंकड़े और उसका ऐतिहासिक महत्व दर्ज होगा।

सोशल नेटवर्किंग पर जोर
‘नॉलेज इंजन’ को युवाओं के बीच लोकप्रिय बनाने के लिए विकिपीडिया ने साइट को सोशल मीडिया से जोड़ने का फैसला किया है। यूजर महज एक क्लिक पर इस पर मौजूद सामग्री को फेसबुक, ट्विटर, व्हॉट्सएप समेत अन्य सोशल साइटों पर साझा कर सकेंगे। उन्हें ‘नॉलेज इंजन’ पर ही दोस्तों का ग्रुप बनाकर अलग-अलग विषयों से जुड़ी टेक्स्ट, फोटो, वीडियो, ऑडियो और ग्राफिकल सामग्री आपस में शेयर करने की सुविधा भी उपलब्ध कराई जा सकती है।

पिछली कोशिश हुई थी नाकाम
यह पहली बार नहीं होगा, जब विकिपीडिया के संस्थापक जिमी वेल्स कोई सर्च इंजन लॉन्च करेंगे। जनवरी 2008 में उन्होंने ‘विकिया सर्च’ नाम का सर्च इंजन पेश किया था, जिसका इस्तेमाल यूजर विकिपीडिया और उससे जुड़ी वेबसाइटों पर सामग्री खंगालने के लिए कर सकते थे। अगस्त 2008 में उन्हें साइट पर मौजूद सामग्री को एडिट करने, उसमें अतिरिक्त जानकारी डालने और किसी पेज को रेटिंग देने के अलावा छोटे-छोटे लेख पोस्ट करने की सुविधा भी दी गई। ‘विकिया सर्च’ को ‘फूवी’ नाम की सोशल नेटवर्किंग साइट से भी जोड़ा गया, जिस पर यूजर अकाउंट बनाकर दोस्तों से खबरें, आंकड़े, रोचक जानकारियां, फोटो और वीडियो साझा कर सकते थे। हालांकि तमाम कोशिशों के बावजूद ‘विकिया सर्च’ लोगों की कसौटी पर खरा नहीं उतर पाया। मार्च 2009 में वेल्स को मजबूरन इसे बंद करने का फैसला लेना पड़ा। (livehindustan)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें