upi

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने गुरुवार को यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई ऐप) को लाइव कर दिया. जिसके तहत अब  21 बैंकों के कस्‍टमर स्‍मार्टफोन के जरिए यूपीआई का इस्‍तेमाल करते हुए पैसा भेज और कलेक्‍ट कर सकेंगे. पैसा भेजने के अलावा आपको यूटिलिटी बिल पेमेंट, ऑनलाइन शॉपिंग, खरीदारी के लिए नेट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड की जरूरत नहीं पड़ेगी.

भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम-नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) ने आज कहा कि उसका ‘एकीकृत भुगतान संपर्क-यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस मंच (यूपीआई) शुरू हो गया है और अब 21 बैंकों के ग्राहक इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. यूपीआई मोबाइल सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन के जरिये कैश पेमेंट की एक नई सुविधा है जिसके जरिए ग्राहक बिना किसी कार्ड की मदद से अपने स्मार्टफोन से दूसरे पक्ष को कैश का पेमेंट कर सकते हैं और प्राप्ति की पुष्टि भी कर सकते हैं.

और पढ़े -   IMEI नंबर से छेड़छाड़ करना पड़ेगा महंगा, होगी तीन साल तक की जेल

ऐसे काम करेगा ऐप
पेमेंट के लिए आपको सिर्फ रिसीवर की यूनिक आईडी (र्इमेल आईडी, मोबाइल नंबर या आधार) की जरूरत होगी. आपको यूपीआई ऐप खोलकर अमाउंट सेलेक्ट करना होगा और रिसीवर की यूनिक आईडी जोड़ने के बाद सेंड के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा. पेमेंट भेजने से पहले ऐप एक बार ऑथेंटिकेट करने के लिए मोबाइल पिन पूछेगा, जिसे डालने के बाद पेमेंट हो जाएगी. ये सभी काम आप यूनीफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) सिस्‍टम से कर सकते हैं.

और पढ़े -   IMEI नंबर से छेड़छाड़ करना पड़ेगा महंगा, होगी तीन साल तक की जेल

50 रुपए से 1 लाख रुपए तक कर सकते हैं ट्रांसफर
यूपीआई ऐप पूर्व आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन ने कुछ माह पहले पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर लॉन्च किया था. इस ऐप से अब 21 बैंक जुड़ चुके हैं. इस ऐप को गूगल प्‍लेस्‍टोर से डाउनलोड कर स्‍मार्टफोन पर रन करना होगा. इसके बाद बैंक अकाउंट और आधार नंबर से इसको जोड़ना होगा. इस ऐप के जरिए 1 दिन में 50 रुपए से 1 लाख रुपए तक ट्रांसफर किए जा सकते हैं.

और पढ़े -   IMEI नंबर से छेड़छाड़ करना पड़ेगा महंगा, होगी तीन साल तक की जेल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE