लैपटॉप या कंप्यूटर पर जब आप काम करते हैं तो स्क्रीन को देखते हैं. यदि उसपर काम नहीं कर रहे होते तो टेबलेट या स्मार्टफ़ोन को देख ईमेल का जवाब देते हैं या फिर उस पर कोई वीडियो देख रहे होते हैं.

अब चाहे कुछ भी कर लें, स्क्रीन को देखे बिना डिजिटल दुनिया में काम करना मुश्किल नहीं बल्कि असंभव है. इसलिए आंखों का ख़्याल रखना बहुत ज़रूरी है.

चलिए आपको इसके कुछ तरीके बताते हैं. यदि इन्हें रोज़ की आदतों में शुमार कर लिया जाए तो कुछ समय बाद इसका फ़ायदा ज़रूर दिखेगा.

सबसे पहली बात जिस पर ध्यान देने की ज़रूरत है कि कंप्यूटर की स्क्रीन और आंखों के बीच कम से कम 18-30 इंच की दूरी होनी चाहिए. अगर आप अपनी स्क्रीन पर एंटी-ग्लेअर फ़िल्टर लगाते हैं तो आंखों के लिए बहुत बढ़िया रहेगा. कोशिश कीजिये कि कंप्यूटर मॉनिटर किसी लाइट के नीचे न हो.

दूसरे अपनी आंखों को सूखने से बचाइए. अगर आपकी आंखें स्क्रीन को नीचे की तरफ़ देखेंगी तो बढ़िया रहेगा. लेकिन जब भी आंखें सूखी सी लगने लगें तो आंखों को ज़्यादा फड़फड़ाइए. ज़रूरत पड़े तो आई ड्रॉप से आंखों को गीला रखें. जो लोग कांटेक्ट लेंस लगाते हैं उन्हें आंखों का सूखना ज़्यादा महसूस हो सकता है.

डॉक्टरों का सुझाव है कि हर बीस मिनट में स्क्रीन से बीस सेकंड के लिए आंखें हटा लेनी चाहिये. क़रीब 15-20 सेकंड के लिए थोड़ी दूर देख लीजिये.


इसके अलावा, हर दो घंटे के बाद अपने काम से 15 मिनट का ब्रेक लेना ज़रूरी है. इससे आपकी आंखें स्क्रीन से दूर हो जाती हैं और उन्हें आराम भी मिलता है.

कंप्यूटर, टेबलेट और स्मार्टफोन का काम पर इस्तेमाल करने वालों के लिए ज़रूरी है कि वे हर साल अपनी आंखों की जांच करवा लें. (BBC)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Related Posts

loading...
Facebook Comment
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें