सोशल मीडिया एक ऐसा माध्यम बनकर सामने आया है जहाँ किसी दुसरे के बारे में अपनी राय रखना बहुत आसान हो गया है, जहाँ पहले सेलेब्रिटी, नेता या अन्य बड़ी हस्ती से बात करना तो दूर उन्हें देखना तक नसीब ना होता था वही अब उन लोगो से आम जनता सीधे बात कर सकती है लेकिन यह बात कहने में जितनी अच्छी लगती है प्रैक्टिकली उतनी है खतरनाक भी है क्यों की जितने लोग उतनी अलग अलग सोच .

कब किसके दिमाग में क्या चल रहा हो किसी को नही पता .. इसीलिए ऐसे मामले सामने आने लगे जहाँ विचारों के भिन्न होने से सोशल मीडिया पर ही गाली गलोच होनी शुरू हो गयी.. और यह आजकल इतना ज्यादा आम हो गया है की तमाम मीडिया संस्थानों से लेकर देश की जानी मानी हस्तियों तक के बारे में यूजर भद्दे कमेंट से लेकर गाली गलोच तक करते है.

अब इस समस्या से निपटने का जिम्मा गूगल ने ले लिया है। गूगल का यह पर्सपेक्टिव टूल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस होगा जो आपत्तिजननक, गंदे और भद्दे कमेंट्स को पहचान सकेगा। यह टूल संस्थानों और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को गूगल फ्री में देगी। इस टूल की मदद से यूजर को बिना जानकारी दिए कमेंट्स को 24 घंटों में हटाया जा सकेगा।

बता दें कि न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने रीडर्स कमेंट को मर्यादित बनाने के लिए गगूल से मदद मांगी थी जिसके बाद गूगल ने यह टूल तैयार किया है। इसकी टेस्टिंग फिलहाल न्यूयॉर्क टाइम्स, द इकनॉमिस्ट और द गार्डियन जैसी संस्थाओं में हो रही है। यह टूल अभी अंग्रेजी भाषा के लिए ही है। जल्द ही दूसरी भाषाओं में लॉन्च किया जाएगा।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE