वाराणसी। सोशल मीडिया पर अफवाह फैला कर शांति भग करने के कई मामले सामने आने के बाद अब जिला प्रशासन ने फैसला लिया कि अब अगर व्हाट्सएप ग्रुप में कोई भी उल्टा-सीधी चीजे डालकर लोगों को भड़काता हैं तो उसके साथ ही ग्रुप के एडमिन पर भी कारवाई होगी.

वाराणसी के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने एक संयुक्त आदेश जारी कर कहा कि एडमिन वही बने जो उस ग्रुप की जिम्मेदारी उठाने में सक्षम हो और सभी सदस्यों से पूरी तरह परिचित हो. कोई सदस्य गलत बयानी, बिना पुष्टि के समाचार जो अफवाह बन जाए, पोस्ट करता है तो एडमिन तत्काल उसका खंडन करे कि इसका तथ्य सही नहीं है.

और पढ़े -   बीएसएनएल में किया धमाका - सैटेलाइट फोन सर्विस की लॉन्च, अब बिना नेटवर्क के भी होगी बातचीत

इसके अलावा ऐसे सदस्य को फौरन ग्रुप से बाहर करे. अफवाह , भ्रामक तथ्य और सामाजिक समरसता के विरुद्ध पोस्ट होने पर फौरन संबंधित थाने को सूचना दी जाए एडमिन अगर ऐसी पोस्ट पर कार्रवाई नही करता तो उसे भी उस कृत्य में शामिल माना जाएगा और उसके विरुद्ध भी कर्रवाई होगी.

वाराणसी प्रशासन ने सिर्फ इस आदेश को जारी ही नहीं किया बल्कि बनारस के लोहता इलाके से ऐसी ही भ्रामक बात फैलाने के आरोप में दो युवकों को देर शाम गिरफ्तार भी किया है.

और पढ़े -   बीएसएनएल में किया धमाका - सैटेलाइट फोन सर्विस की लॉन्च, अब बिना नेटवर्क के भी होगी बातचीत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE