अक्सर स्मार्टफोन यूजर इसकी बैटरी को लेकर काफी परेशान रहते हैं। व्हाॅट्सएप आैर इस जैसे अनेक एप्स के कारण यूजर को फोन की बैटरी बार-बार चार्ज करनी पड़ती है जो एक समस्या बन जाती है। लेकिन अब इस समस्या का हल निकाल लिया गया है।

ब्रिटिश वैज्ञानिकों की टीम ने अब एक एेसी तकनीक का आविष्कार किया है जिससे फोन को बार-बार चार्ज करने के झंझट से हमेशा के लिए मुक्ति मिल जाएगी। इस तकनीक से चलने वाले फोन की बैटरी एक हफ्ते तक चलेगी।

इंटेलीजेंट एनर्जी नामक 27 साल पुरानी ब्रिटिश टेक कंपनी ने इस तकनीक के लिए एक उभरते स्मार्टफोन मेकर से अनुबंध किया है।

इस तकनीक से बनने वाले फोन की बैटरी लिथियम आयन के बजाय हाइड्रोन फ्यूल सैल तकनीक पर काम करेगी। यह बैटरी एक चार्ज में पूरा हफ्ता चलेगी।

हाइड्रोन फ्यूल सैल हाइड्रोजन आैर आॅक्सीजन की रसायनिक क्रिया से इलैक्ट्रिक करंट आैर पानी बनाता है जिससे स्मार्टफोन की बैटरी चलती है। (राजस्थान पत्रिका)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें