लखनऊ: कानून वयवस्था की लचरता के कारण प्रदेश में अपराधों में एक के बाद एक संगीन मामले सामने आ रहे है. वहीँ पुलिस अपराध पर लगाम लगाने में नाकाम है. ऐसे में अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का विरोध होना शुरू हो चूका है.

ताजा मामला बस्ती जिले के पैकोलिया थाना क्षेत्र के जीतीपुर गांव का है. जहाँ पर एक महीने पहले 7 वर्षीय बच्ची का अपहरण कर उसके साथ गैंगरेप किया गया था. जख्मी हालात में मिली लड़की ने ईलाज के दौरान दम तोड़ दिया था. इस मामलें में पुलिस ने अब तक किसी भी आरोपी को  गिरफ्तार नहीं किया है.

और पढ़े -   पीएम मोदी का वाराणसी दौरा, योगी सरकार का हर मदरसे को 25-25 महिलाओं को भेजने का आदेश

आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से नाराज हजारों ग्रामीणों ने आज NH 28 लखनऊ गोरखपुर मार्ग को जामकर दिया. ग्रामीणों ने जाम के दौरान तोड़ फोड़ किया और जिला प्रशासन व योगी मोदी के खिलाफ जम कर मुर्दाबाद के नारे लगाये.

ग्रामीणों का कहना है कि बीजेपी सासंद व विधायक के दबाव में पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी नही कर रही है. जाम की सूचना मिलने पर मौके पर कई थानों की फोर्स के साथ एसडीएम व सीओ सिटी पहुंचे और तत्काल आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन देकर जाम को हटवाया.

और पढ़े -   भाजपा महिला नेता की गुंडई, काम को लेकर की आलोचना तो युवक को सरेआम पीटा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE