आपको शायद याद होगा की जब मुख्यमंत्री योगी ने शपथ ग्रहण की थी तब उन्हें मुख्यमंत्री आवास का शुद्धिकरण करवाया था लेकिन इससे आगे बढ़ते हुए मुख्यमंत्री योगी ने इस बार अंजीर के पेड़ कटवाने का आदेश दिया है. इस बात का खुलासा तब हुआ जब योगी आदित्यनाथ ने अंजीर के पेड़ को अशुभ बताते हुए कांटने का आदेश दिया है. इसके अलावा मुख्यमंत्री ने प्रशासन को निर्देश दिए हैं की कांवड़ यात्रा के दौरान किसी भी प्रकार के भद्दे और अश्लील फिल्मी गाने न बजाए जाऐंगे.

और पढ़े -   मदरसे के वाटर टैंक में मिलाया ज़हर, शहर की फ़िज़ा बिगाड़ने की साज़िश

बैठक के दौरान सीएम योगी ने कहा कि, ऐसी व्यवस्था की जाए कि कांवड़ यात्रियों को व्यवस्था में बदलाव दिखाई दे. वो अपनी यात्रा सुविधापूर्ण ढंग से पूरी कर सकें. उन्होंने कहा कि, कांवड़ यात्रा का प्रबंधन सकारात्मक दृष्टिकोण से किया जाए. यह एक धार्मिक यात्रा है, जिसमें हर्षोल्लास का वातावरण रहना चाहिए.

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का पालन करते हुए यात्रियों को निश्चित समय तक ही लाउड स्पीकर बजाने की अनुमति दी जाए. बिना अनुमति के लाउड स्पीकर या डीजे का इस्तेमाल न हो और इस पर भजन ही बजाया जाये.

और पढ़े -   अच्छी खबर: पेरेंट्स की देखभाल नहीं करने वाले कर्मचारियों की असम में कटेगी अब तनख्वाह

योगी के इस बयान के सामने आने के बाद लोग इस फैसले को अंधविश्वास से जोड़ रहे है. हिंदू कैलेंडर के हिसाब से सावन के महीने में यह यात्रा शुरू होती है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE