मध्य प्रदेश: नीमच में जन्में आबिद अली नीमचवाला अब देश की तीसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी विप्रो की कमान संभालेंगे. उन्हें हाल ही में कंपनी ने अपना नया सीईओ नियुक्त किया है. फरवरी की पहली तारीख से आबिद अपना पद संभालेंगे.

नीमच के आबिद बनें देश की तीसरी सबसे बड़ी कंपनी विप्रो के सीईओ

पद संभालने पर वो विप्रो की ग्लोबल इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज की सेवा लाइनों,बिजनस एप्लिकेशन सेवा, बिजनेस प्रोसेस सर्विसेज और एडवांस टेक्नोलॉजी सॉल्यूशन संभालेंगे. साथ ही यूरोप, अफ्रीका, और एलएटीएएम में व्यापार के संचालन, मार्केटिंग और स्ट्रेटजी बनाने का जिम्मा भी आबिद का होगा.

टीके कुरियन की जगह आबिद

विप्रो में आबिद नीमचवाला को टीके कुरियन की जगह सीईओ बनाया गया है. कुरियन को अब कंपनी का एक्जिक्यूटिव वाइस चेयरमैन नियुक्त कर दिया गया है. विप्रो के मुताबिक टीके कुरियन 31 मार्च 2017 तक बोर्ड के सदस्य बने रहेंगे.

23 साल तक रहे टाटा का हिस्सा

विप्रो में आने से पहले आबिद टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज का हिस्सा रहे थे. आईआईटी से पास होने के बाद से ही वो कंपनी का हिस्सा रहे और कई महत्वपूर्ण पदों पर उनकी नियुक्ति की गई. करीब 23 साल तक टाटा से जुड़े रहने के बाद उन्होंने विप्रो ज्वाइन किया. खास बात ये है कि आबिद को कंपनी में लाने के लिए विप्रो ने पहली बार अपनी कंपनी में सीओओ का पद बनाया था.

शतरंज के शौकीन

शतरंज के शौकीन, आबिद ने रायपुर एनआईटी से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है. उन्होंने आईआईटी, मुंबई से इन्डसट्रियल मैनेजमेंट में मास्टर्स की डिग्री हासिल की. उनकी ज्यादातर जिंदगी गुजरात और मुंबई में बीती. जिसके बाद वो अमेरिका के डलास, टेक्सास में अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ रहने लगे थे. न्यूज़ 18


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें