hardik-patel-said-he-will-not-let-players-to-reach-stadium

पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल की जमानत पर गुजरात हाई कोर्ट नेराज्य सरकार के वकील से पूछा कि हार्दिक के बाहर आने से सरकार डरती क्यों है? हार्दिक पटेल की जमानत अर्जी पर हाई कोर्ट में सोमवार को सुनवाई करते हुए हार्दिक पटेल की जमानत पर फैसला सुरक्षित रखा है.

जस्टिस एजे देसाई के समक्ष हुई सुनवाई में सरकारी वकील मीतेश अमीन ने कहा कि पाटीदार समुदाय को ओबीसी के तहत आरक्षण की मांग कतई जायज नहीं है. दूसरी तरफ हार्दिक के वकील जुबीन भराडा ने कहा कि “मेरे मुवक्किल हार्दिक पटेल छह महीने गुजरात से बाहर रहने के साथ कोई भी शर्त मानने के लिए तैयार हैं। उन्हें जमानत दी जानी चाहिए।”

सरकारी वकील द्वारा जमानत के विरोध में कहा गया किहार्दिक पटेल सोशल मीडिया के माध्यम से भी आंदोलन को चलाकर कानून व्यवस्था को बिगाड़ सकते हैं. इस पर जज देसाई ने पूछा कि हार्दिक की जमानत से सरकार इतना डर क्यों रही है?


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें