अयोध्या विवाद में शिया पर्सनल लॉ बोर्ड ने शिया वक्फ बोर्ड के प्रस्ताव को खारिज करते हुए कहा कि देश का मुसलमान किसी भी कीमत पर मस्जिद की जगह पर मंदिर बर्दाश्त नहीं करेगा.

बोर्ड के संस्थापक व महासचिव मौलाना सैय्यद अली हुसैन रिजवी कुम्मी ने कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर बने, इस पर किसी भी मुसलमान को कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन बाबरी मस्जिद की जगह पर कब्जा कर वहां मंदिर बनाया जाए, यह कोई भी मुसलमान बर्दाश्त नहीं करेगा.

उन्होंने शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी कौम का दलाल करार देते हुए कहा कि रिजवी पूरी शिया कौम को बदनाम कर रहे हैं. वह अपने आपको कानूनी गिरफ्त से बचाने के लिए आरएसएस की भाषा बोल रहे हैं. ह वसीम रिजवी का ढोंग ही है कि वह अयोध्या जाकर मंदिरों में फूल चढ़ा रहे हैं.

कुम्मी ने कहा कि शिया वक्फ बोर्ड की करोड़ों की प्रॉपर्टी खुर्दबुर्द करने वाला जो जमानत पर छूटा है, वह कौम का नेता बनना चाह रहा है. हालांकि वसीम शिया कौम के ठेकेदार नहीं हैं. कुम्मी ने आगे कहा, `वसीम रिजवी जैसे जमीरफरोश, कौम के दलालों से कौम को होशियार रहने की जरूरत है.

इस दौरान उन्होंने सपा नेता आजम खान को भी घेरा और कहा कि `वसीम रिजवी आजम खां के बहुत चहेते थे, आज आजम खां किस बिल में घुस गए हैं? क्या वह भी मस्जिद को राम मंदिर बनाना चाहते हैं?”


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE