मध्य प्रदेश में कुख्यात व्यापम घोटाले का पर्दाफाश करने वाले विसलब्लोअर आशीष चतुर्वेदी ने पुलिस से कहा है कि उन्हें राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, RSS (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) के कुछ पदाधिकारियों, स्वास्थ्य मंत्री और रिटायर IPS हरीसिंह यादव से जान का खतरा है।

आशीष चतुर्वेदीपुलिस ने आशीष को दी जा रही सुरक्षा के वार्षिक आकलन के तहत उनकी सुरक्षा से जुड़ी जानकारियां मांगी थीं। आशीष ने बुधवार को झांसी रोड थाने में दिए गए एक पेज के फॉर्म में बताया कि उन्हें इन लोगों से जान का खतरा है। इससे पहले आशीष ने पिछले साल 16 सितंबर को झांसी रोड थाने में शिकायत की थी कि भोपाल के गांधी मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर आईडी चौरसिया ने उन्हें फोन पर धमकी दी थी। इस मामले में पुलिस ने एफआईआर भी दर्ज की थी।

यहां बता दें कि RTI ऐक्टिविस्ट आशीष ने व्यापम घोटाले में कई हाई प्रोफाइल लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कराई थी। कुछ मामलों में पुलिस ने आशीष को गवाह भी बनाया था। ग्वालियर पुलिस ने पिछले साल 16 जुलाई को दर्ज कराई गई एफआईआर के बाद उन्हें सुरक्षा दी थी।

आशीष ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘मुझे RSS के कुछ पदाधिकारियों से सुरक्षा का खतरा महसूस होत है। मैंने व्यापम का मुद्दा उठाया, इसलिए वे मुझे देखना नहीं चाहते।’

इस बारे में पूछे जाने पर पुलिस एसपी हरिनारायण चारी मिश्रा ने कहा, ‘वह चर्चा में रहने के लिए किसी का भी नाम ले सकते हैं, लेकिन इसका कुछ आधार भी होना चाहिए।’ उन्होंने कहा कि जिन लोगों को पुलिस सुरक्षा दी गई है, उनसे हर साल इस बारे में पूछा जाता है। हमें उम्मीद है आशीष सुरक्षाकर्मियों का सहयोग करेंगे और उन्हें अपने आने-जाने के बारे में बताएंगे। साभार: नवभारत टाइम्स


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें