teb

गुजरात में आंगनबाड़ी सेविकाओं को इसलिए सरकारी टेबलेट बांटे गए थे ताकि वे बच्चों को कितना पोषण आहार, उसकी आपूर्ति, पूरक पोषण आदि के रोजाना के आंकड़े अपलोड कर सकें लेकिन इन टेबलेट में ये चीजे अपलोड होने के बजाय सिर्फ अशलील तस्वीरें दिखाई दे रही हैं.

आंगनबाड़ी सेविका जब भी टेबलेट को नेट से जोड़ती हैं और अपना पासवर्ड डालती हैं। अश्लील तस्वीरें दिखाई पड़ती हैं, लाख कोशिशों के बाद भी जब अश्लील तस्वीरों का आना बंद नहीं हुआ तो सेविकाएं टेबलेट वापस करने सरकारी दफ्तर पहुंच गईं.

और पढ़े -   गुजरात: फिर सामने आया ऊना कांड, दलित युवक और महिला की नग्न कर पिटाई

ये सिर्फ एक दो या तीन टेबलेट के साथ नहीं हो रहा बल्कि लगभग 500 टेबलेट के साथ हो रहा है. शर्मिंदगी के कारण आंगनबाड़ी सेविकाओं ने टेबलेट को वापस करना शुरू कर दिया हैं. दरअसल गुजरात सरकार ने साबरकांठा जिले मे पिछले 2 साल से स्वास्थ संवेदना सेतु नाम का प्रोजेक्ट शुरू किया है। इस प्रोजेक्ट के तहत सात सौ से भी ज्यादा महीला और पुरुष कर्मियो को टेबलेट दिये गये हैं.

और पढ़े -   गुजरात में स्वाइन फ्लू का कहर, मरने वालों की संख्या पहुंची 242 तक

लेकिन सरकार द्वारा आवंटित किये गए इन टेबलेट को नेट से कनेक्ट करते ही तुरंत पोर्न साइट खुल जाती हैं. जिसके बाद टेबलेट को वापस लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE