नई दिल्ली:रोहित वेमुला सुसाइड पर गर्म हुई सियासत में कांग्रेस एक्टिव हो गई है जो बीजेपी को नागवार गुजर रही है। बीजेपी नेताओं के ताबड़तोड़ बयान के बाद अब विदेश मंत्री सुषमा स्वारज भी रोहित वेमुला सोसाइड मामले में कूद पड़ीं हैं। कहा है कि उनकी जानकारी के अनुसार रोहित दलित नहीं था। वहीं बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भी रोहित सोसाइड मामले को अलग रंग देने की किशिश की है। उन्होंने कहा कि वेमुला आतंकी के लिए नमाज पढ़ता था। सुषमा और कैलाश वर्गीय के ताजा बयान से एक बार फिर से सियासत गरमा सकती है।

kailash-vijayvargiya

क्या कहा सुषमा ने
रोहित वेमुला सोसाइड मामले में चल रही सियासत के बीच सुषमा स्वारज का चौंकाने वाला बयान आया है। सुषमा ने कहा है कि दलित के नाम पर सियासत हो रही है लेकिन रोहित दलित था ही नहीं। हैदराबाद यूनिवर्सिटी के एक रिसर्च स्कॉलर रोहित वेमुला ने 17 जनवरी को सुसाइड किया था। अपने सुसाइड लेटर में रोहित ने देश के सामने कई बड़े सवाल खड़े किए थे। उन सवालों पर शायद उतनी चर्चा नहीं हुई जितनी रोहित के सुसाइड पर सियासत हो रही है।

कैलाश विजयवर्गीय ने क्या कहा
कांग्रेस बीजेपी पर दलित विरोधी होने का आरोप लगा रही है तो बीजेपी कांग्रेस पर मौत पर सियासत करने का आरोप। लेकिन सियासी जंग में बीजेपी के नेताओं के बयान कई विवाद भी पैदा कर रहे हैं। बीजेपी के महासचिव कैलाश विजय वर्गीय ने इस मामले को नया मोड़ दे दिया है। विवादित बयानों पर सुर्खियां बटोरने वाले कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि रोहित वेमुला सुसाइड नहीं कर सकता है क्योंकि वेमुला आतंकी के लिए नमाज पढ़ता था। इस बयान के बाद फिर बीजेपी-कांग्रेस आमने-सामने आ गए हैं।

दरअसल कांग्रेस इस मुद्दे को दलित का मुद्दा बनाकर देश भर में बीजेपी सरकार के खिलाफ हवा बना रही है। राहुल गांधी रोहित की मौत के 12 दिन बाद हैदराबाद पहुंचकर उपवास पर बैठ गए। ये बीजेपी को बड़ा नागवार गुजरा। दिल्ली से लेकर हैदराबाद और मुंबई तक से राहुल गांधी और कांग्रेस की रणनीति पर हमले शुरू हो गए।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और कैलाश विजयवर्गीय का ताजा बयान देश भर में रोहित की मौत पर चल रही सियासी बहस के लिए एक नया प्लेटफॉर्म तैयार कर चुका है। अब सवाल ये उठता है कि रोहित को इंसाफ दिलाने के मामले में दलित और गैर दलित के सवाल को क्यों बार-बार उठाया जा रहा है। क्या कांग्रेस और बीजेपी के बीच अगर जाति का मामला सेटल हो जाए तो रोहित को इंसाफ मिल जाएगा। (News24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें