received_1253601328044003

मारहरा: 11 नवम्बर से उत्तरप्रदेश के मारहरा में खानकाहे बरकातिया पर उर्स का आगाज होने वाला हैं. तीन दिवसीय इस उर्स में दुनिया भर से लाखों जायरीन आयेंगे.

दरगाह खानकाहे बरकातिया पर उर्से कासमी के लिए दरगाह कमेटी की ओर से तैयारियां शुरू हो गई हैं. दरगाह शरीफ की  सजावट करने के लिए गुजरात से कारीगर बुलाये गये हैं. इसके अलावा 500 सदस्यों का एक दल पूरनपुर से आकर जायरीनों के खाने के इन्तेजाम में लगा हुआ हैं.

दरगाह शरीफ के सज्ज़ादानशीन सैयद नजीब हैदर नूरी ने जानकारी देते हुए कहा कि  उर्स का आगाज शुक्रवार की अलसुबह फज्र की नमाज के बाद कुरानख्वानी व हल्का-ए-जिक्रे कादरिया से होगा. वहीँ रात में मुकाबला-ए-किरत होगा.

उर्स के दूसरे दिन शनिवार की सुबह कुरानख्वानी व हल्का-ए-जिक्रे कादरिया, शाम बाद नमाजे असर के कस्बा में चादर गागर का जुलूस निकाला जाएगा और रात में उर्स की अहम रिवायत खरका पोशी की होगी. जिसमे उर्स के गद्दीनशीन प्रोफेसर सैयद अमीन मियाँ कादरी बुजुर्गों के लिबास पहनकर मौजूद हजारो जायरीनों को जियारत कराएंगे.

उर्स के अंतिम दिन रविवार को सुबह करीब 10 बजे से कुल शरीफ की महफ़िल का आगाज होगा. दोपहर जोहर की नमाज के बाद कुल शरीफ की फातिहा उसके बाद दरगाह शरीफ में मौजूद तबर्रुकात की जियारत कराई जाएगी.

हैदर नूरी ने आगे कहा कि उर्स के पहले दिन होने वाले मुकाबाला-ए-किरत में पहला इनाम जीतने वाले उलेमा को दरगाह कमेटी की ओर से सऊदी अरब में उमरा कराया जाएगा, दुसरा इनाम जीतने वाले को ईराक के बगदाद शरीफ स्थित सरकार गौसे पाक की जियारत वही तीसरा इनाम जीतने वाले को अजमेर शरीफ स्थित ख्वाजा गरीब नवाज की जियारत कराई जाएगी


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें