पठानकोट हमले में शहीद हुए गुरसेवक की शहादत को लेकर यूपी के एक मंत्री ने आपत्तिजनक बयान दिया है. कारागार मंत्री बलवंत सिंह रामूवालिया ने कहा कि शहीद के लिए 20 लाख रुपये नाकाफी हैं. उन्‍होंने कहा कि आजकल एक-दो करोड़ के तो पशु ही बिक जाते हैं.

balwant

दरअसल, पठानकोट हमले में शहीद हुए गुरसेवक सिंह की शहादत को लेकर हर कोई दुखी है. इस दौरान जब रामूवालिया अंबाला में शहीद के परिजनों से मिलने पहुंचे तो वो भी अपने आप को रोक नहीं पाए. उन्‍होंने कहा कि हरियाणा सरकार की ओर से शहीद के परिवार के दी गई 20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता के ऐलान को नाकाफी है.

रामूवालिया ने कहा कि हरियाणा जैसे समृद्ध राज्य में एक नौजवान शहीद के लिए इतनी राशि नाकाफी है. इस दौरान उन्‍होंने शहीद की शहादत की कीमत को कम बताते हुए कहा कि पंजाब के कुछ इलाकों में एक से दो करोड़ के तो पशु ही बिक जाते हैं. उन्होंने कहा कि हरियाणा जैसे अमीर प्रदेश का मुख्यमंत्री होने के बावजूद शहीद परिवार के लिए बीस लाख रुपये नाकाफी हैं.

रामूवालिया ने कहा कि भारत माता की जय का सबसे ज्यादा नारा बीजेपी ही लगाती है और दूसरी ओर शहीदों को उचित सम्मान भी नहीं मिलता. साभार: न्यूज़ 18


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें