नई दिल्ली |  गौरक्षा के नाम पर कुछ लोगो को गुंडागर्दी करने का खुला लाइसेंस मिला हुआ है. गौरक्षा के नाम पर ये लोग किसी को बेरहमी से मार सकते है, उनका जुलुस निकल सकते है और भी बहुत कुछ जो हम सोच भी नही सकते वो कर सकते है  गौरक्षा के इन तथाकथित ठेकेदारों को कानून का सरंक्षण भी प्राप्त होता है इसलिए इतना सब कुछ करते हुए इन्हें किसी का डर नही होता.

सामने आई विडियो में दो लोगो को जबरदस्ती खिलाया जा रहा है गोबर

ताज़ी घटना मानेसर-पलवल हाईवे की है , जहाँ दो लोगो को गौरक्षा दल के लोगो ने गोबर तक खिला दिया. इस घटना का एक विडियो सामने आया है जिसमे दो लोगो को गोबर खाते दिखाया गया है. यही नही गोबर के साथ साथ इन लोगो को दही, घी खाने और दूध और गोमूत्र पीने पर मजबूर किया जा रहा है. इस विडियो में दोनों लोग जबरदस्ती ये सब खा रहे है.

beef

गौरक्षक दल के लोगो को मिली बीफ से भरे ट्रक की खबर

इस विडियो के बाहर आने के बाद गौरक्ष दल के अध्यक्ष धर्मेन्द्र यादव से जब घटना के बारे में पुछा गया तो उन्होंने इस बात की पुष्टि की, की उन्होंने दोनों लोगो को ये सब चीजे खाने पीने पर मजबूर किया. धर्मेन्द्र प्रधान ने बताया की हमें खबर मिली थी की कुछ लोग एक ट्रक में बीफ ले जा रहे है. खबर मिलने के बाद हमने मानेसर पलवल हाईवे पर ट्रक का पीछा किया.

दोनों लोगो की शुद्धि की गयी

करीब 7 किलो मीटर पीछा करने के बाद हमने ट्रक को रुकवाया. ट्रक की तलाशी लेने पर हमें ट्रक में 700 किलो बीफ मिला जिसे मेवात से दिल्ली ले जाया जा रहा था. ट्रक के चालक और उनके साथी रिजवान और मुख्तैर की शुद्धि करने के लिए दोनों को पंचगव्य खिलाया गया. धर्मेन्द्र यादव ने बताया की पंचगव्य में गाय का गोबर, दही, घी, गौमूत्र और दूध शामिल थे.

बीच बीच में लगवाए गौ माता की जय और जय श्री राम के नारे

विडियो में साफ़ साफ़ दिख रहा है की गौरक्षा दल के लोग जबरदस्ती दोनों लोगो को गोबर खाने पर मजबूर कर रहे है व बीच बीच में गाय माता की जय और जय श्री राम के नारे लगाने पर भी मजबूर कर रहे है. इस घटना की विडियो किसने बनायी इसकी जानकारी धर्मेन्द्र यादव को नहीं है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें