धारवाड़ (कर्नाटक ) : लिंगायत समुदाय की धर्मगुरु महिला जगदगुरु माते महादेवी ने भारत में महिलाओं के खिलाफ यौन उत्पीड़न के बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर की.

उन्होंने महिलाओं से अपील की वे इन घटनाओं से बचने के लिए अरबी महिलाओं के तौर-तरीकों का अनुसरण करने की अपील की. उन्होंने कहा कि भारतीय महिलाओं को भी अरबी महिलाओं की तरह शालीन कपड़े पहनना चाहिए. और ये कपड़े पुरे शरीर को ढकने वाले होने चाहिए. जिस तरह अरबी महिलाएं पहनती हैं.

और पढ़े -   पीएम मोदी का वाराणसी दौरा, योगी सरकार का हर मदरसे को 25-25 महिलाओं को भेजने का आदेश

इसी के साथ उन्होंने यौन उत्पीड़न के बड़ते मामलों में महिलाओं को रात में बाहर घुमने की वजह को भी प्रमुख माना. उन्होंने कहा कि समाज में महिलाओं के ख़िलाफ़ बढ़ रहे यौन हिंसा के मामलों के लिए महिलाएं खुद भी आंशिक रूप से ज़िम्मेदार हैं.

बंगलुरु में नये साल की संध्या पर लड़कियों के साथ हुई छेड़छाड़ की घटना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि लड़कियों को नये साल का जश्न मनाने के लिए भड़काऊ कपड़े नहीं पहनने चाहियें थे. इस तरह का व्यवहार यौन हिंसा करने वालों को बढ़ावा देता है. उन्होंने अरब देशों की तरह भारत में भी महिलाओं के लिए ड्रेस कोड लागू किये जाने की मांग की.

और पढ़े -   ख्वाजा के दर से हुई मन्नत पूरी, 1000 किलोग्राम चांदी से सज रहा सुल्तान-ए-हिन्द का दरबार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE