जेवर-बुलंदशहर हाईवे पर सामूहिक दुष्कर्म और लूटपाट की घटना की शिकार हुई महिलाओं ने रविवार को फांसी लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश की. हालांकि उन्हें बचा लिया गया है.

परिजनों के अनुसार, रविवार सुबह करीब साढ़े 3 बजे सेहरी के वक्त उठी कार ड्राइवर की पत्नी दुपट्टे का फंदा बनाकर खुदकुशी करने की कोशिश कर रही थी. इसी दौरान परिजनों ने उसे ऐसा करने से रोक लिया.

वहीँ दूसरी और व्यापारी के परिजनों ने बताया ​कि व्यापारी की बहन और भाभी ने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया था, यहां उन्होंने खुद पर केरोसिन डालकर आग लगाने की कोशिश की.

पीड़िता का कहना है कि पुलि ने अब तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया ऐसे में उनके पास आत्महत्या करने के अलावा और कोई चारा नहीं बचा है.

उधर मामले में गौतमबुद्धनगर के एसएसपी ने बताया कि खुदकुशी की सूचना पर सीओ को पूछताछ की जिम्मेदार दी है. पीड़ित महिलाओं को हर संभव मदद दी जाएगी. आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीमें अपना काम कर रही हैं, जल्द ही गिरफ्तारी भी होगी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE