उत्तर प्रदेश के सम्भल जिले में तुर्की बिरादरी ने शादी में दहेज के लेन-देन, डांस—पार्टी बुलाने, नाच गाने जैसी विभिन्न कुरीतियों पर प्रतिबंध लगा दिया है. इसके अलावा गोकशी और तीन तलाक एक साथ देने पर प्रतिबंध लगाया है.

पंचायत का आयोजन एक परिवार पर नेग दहेज के लिए अनावश्यक दबाव बनाए जाने की शिकायत मिलने के बाद किया गया था. पंचों ने इस पर मंगलवार को सुबह दोनों पक्षों को हाजीपुर में बुलाया था. पंचायत के बाद तुर्क बिरादरी के चेयरमैन शाहिद ने बताया कि शादी-ब्याह के दौरान फिजूलखर्ची होती थी. इसे रोकने के लिए पंचायत ने ये फैसला लिया है.

पंचायत में शामिल हुए आरिफ प्रधान ने बताया कि तुर्क बिरादरी ने दहेज लेने तथा देने वालों पर जुर्माने का प्रावधान किया है. उन्होंने बताया कि सदिरनपुर गाँव के शब्बर नामक व्यक्ति के दो बेटों की पिछले दिनों शादी हुई थी. उसमें मिलाप की रस्म के दौरान एक-एक लाख रुपये का लेन-देन हुआ था. इस वजह से दोनों पक्षों पर पांच-पांच हजार रुपये का जुर्माना  लगाया गया.

उन्होंने बताया कि इसी तरह सदिरनपुर गाँव के ही रफ़ाइज़ नामक व्यक्ति ने अपने बेटे की शादी में डांस पार्टी और डीजे बुलायी थी, जिसके चलते पंचायत ने उस पर 1100 रुपये का जुर्माना लगाया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE