पटना: रियासत में उर्दू से मुताल्लिक ओहदे पर बम्पर बहाली होगी। थाना, ब्लाक, जिला से लेकर हेड क्वार्टर के तमाम महकमों में भी उर्दू से मुताल्लिक ओहदों पर बहाली होगी। रियासती हुकूमत की ख़्वाहिश है कि उर्दू डायरेक्टोरेट को मजबूत किया जाएगा।

nitish-kumar-5681740a59624_exlst

काबिना सेक्रेटरीयेट महकमा की जायजा बैठक में वज़ीरे आला नीतीश कुमार ने यह हिदायत दी है! इससे रियासत के उर्दू जुबान में इन तमाम दफ्तरों में आने वाली दरख़्वास्त का निबटारा आसान हो सकेगा।

और पढ़े -   बिहार: रितुराज सिंह ने लगाए थे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे, लोगों ने जमकर धुना

ओहदे तशकील कर तक़र्रुरी

उर्दू डायरेक्टोरेट को मजबूत करने के लिए जरूरत के मुताबिक नायब डायरेक्टर, सरकारी जुबान के ओहदेदार, उर्दू ट्रांसलेटर, एसिस्टेंट व दीगर ओहदे तशकील होंगे।

इनके अलावा सेक्रेटरीयेट के तमाम महकमों, डिविजनल दफ्तर, डीसी दफ्तर, ब्लाक शरीक सीओ ऑफिस , डीआईजी, एसपी, एसडीपीओ, थाना, रजिस्ट्री दफ्तर व जिला तालीम दफ्तरों में उर्दू ट्रांसलेटर, टाइपराइटर व कम्प्यूटर ऑपरेटर की तक़र्रुरी जरूरत के मुताबिक की जाएगी।

और पढ़े -   झारखंड: पीट-पीट कर हत्या करने के मामले में सात और गिरफ्तार, कुल 26 लोग गिरफ्तार

वज़ीरे आला ने कहा कि सरकारी दस्तुरुल अमल, व नोटिफिकेशन के अलावा अवाम के लिये ज़रूरत तमाम सरकारी आर्डर को भी उर्दू में ट्रांसलेट कर जारी किया जाए। सरकारी इश्तिहार को उर्दू में भी शाया कराया जाए। उर्दू डायरेक्टोरेट में काम कर रहे मुलाजिम के लिए सर्विस दस्तुरुल अमल बनाई जाए ताकि इनके प्रोमोशन का रास्ता आसान हो सके। उर्दू के प्रचार-प्रचार व तरक्की के लिए अकलियत बोहुद महकमा के प्रिंसिपल सेक्रेटरी, फाइनेंस महकमा के प्रिंसिपल सेक्रेटरी, काबिना के प्रिंसिपल सेक्रेटरी, उर्दू डायरेक्टोरेट के डायरेक्टर की एक कमेटी तशकील की जाएगी। यह कमेटी उर्दू के प्रचार-प्रसार व तरक्की के लिए सरकार को सुझाव देगी।

और पढ़े -   सेक्स रेकेट चलाते धरे गए बीजेपी मीडिया प्रभारी के भाजपा के बड़े नेताओं से है रिश्तें ?

साभार http://www.muslimissues.com/


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE