उत्तर प्रदेश के नंदरौली से मुस्लिमों का पलायन का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है. एक बार फिर से अब 33 और मुस्लिम परिवारों ने अपना घर छोड़ दिया है.

बीते 11 मई को हुए मुस्लिम परिवारों पर हमलें के बाद से ही पलायन का सिलसिला जारी है. यूपी पुलिस मुस्लिमों को सुरक्षा नहीं दे पा रही है. 11 मई को हुई हिंसा के बाद 10 परिवार गांव छोड़कर चले गए थे. उसके बाद भी कई परिवारों ने बीच में गाँव छोड़ा है.

और पढ़े -   पूर्व कांस्टेबल अब्दुल क़दीर का हुआ निधन, दंगाईयों का साथ देने वाले वरिष्ठ अधिकारी की ली थी जान

स्थानीय निवासी मोहम्मद शकील ने बताया कि उनका परिवार भी हिंसा का शिकार हुआ था. उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘पुलिस और प्रशासन पर से हमारा विश्वास उठ चुका है. हमलावरों ने मेरा पूरा घर लूट लिया और मेरे बेटों और बेटियों पर हमला किया.’

वहीँ गुन्नौर के सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट अखिलेश यादव का कहना है, ‘प्रशासन गांव में अभी भी रह रहे परिवारों को खाना उपलब्ध करा रहा है. हमने पुलिस से गांव छोड़कर जानेवाले परिवारों की लिस्ट तैयार करने और दूसरी जगहों पर बसाने को कहा है. हम उनसे वापस आने की अपील करेंगे और उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी लेंगे.’

और पढ़े -   नहीं रुक रहा मुस्लिमों पर अत्याचार, फर्रुखाबाद में नबी अहमद की पीट-पीट कर हत्या

 


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE