dead body

गुजरात के ऊना में भगवा संगठनों द्वारा कथित गौरक्षा के नाम पर ऊना में दलितों की पिटाई की घटना के विरोध में आत्महत्या की कोशिश करने वाले दलित युवक की मौत हो गई.

25 वर्षीय योगेश हीराभाई सोलंकी ने राज्यव्यापी बंद के दौरान राजकोट के धोराजी में जहर पी लिया था. इलाज के लिए हीराभाई को राजकोट से अहमदाबाद सिविल अस्पताल लाया गया था जहां पर इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

और पढ़े -   मोदी सरकार को किसी के खानपान पर किसी भी तरह की रोक लगाने का हक नहीं: पुडुचेरी सीएम

पुलिस ने बताया, ‘उसकी हालत बिगड़ने के बाद उसे राजकोट से अहमदाबाद सिविल अस्पताल लाया गया. उसे शनिवार देर रात को यहां लाया गया था, लेकिन इसके तुरंत बाद उसकी मौत हो गई.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE