घनसाली (टिहरी)। अक्सर चर्चाओं में रहने वाले भाजपा से निलंबित चल रहे घनसाली के विधायक भीमलाल आर्य एक बार फिर सुर्खियों में हैं। इस बार भिलंगना ब्लाक पहुंचे मुख्यमंत्री हरीश रावत के जूते उतारने को लेकर चर्चा में हैं। हालांकि, इस पर विधायक भीम लाल आर्य ने सफाई दी कि ‘हरीश रावत सीएम अथवा जनप्रतिनिधि से पहले एक बुजुर्ग हैं। उनके पांव में चोट लगी हुई है और ऐसे में मैंने एक बुजुर्ग की मदद कर दी तो क्या गुनाह कर दिया।’ उन्होंने मुख्यमंत्री को विकास पुरुष की संज्ञा देते हुए कहा कि वह विकास कर रहे हैं और मैं विकास के साथ हूं।

हुआ यूं कि बीते रोज मुख्यमंत्री हरीश रावत भिलंगना ब्लॉक की हिंदाव पट्टी में आयोजित जगदीशिला मेले में शिरकत करने पहुंचे। मुख्यमंत्री हरीश रावत हेलीकाप्टर से उतरते ही वहां मौजूद विधायक भीमलाल आर्य से गले मिले। इसके बाद सीएम और विधायक जगदीशिला देवी के दर्शनों के लिए मंदिर के गेट पर पहुंचे। यहां पर विधायक ने मुख्यमंत्री के चरण स्पर्श किए और उनके जूते उतारे।

इस पर हरीश रावत ने आशीर्वाद के तौर पर उनके सिर पर हाथ भी रखा। दूसरी ओर, विधायक ने खुद को भाजपा का निष्ठावान सिपाही बताते हुए कहा कि ‘पार्टी ने मुझे निलंबित कर रखा है और यदि इस मुद्दे पर कार्रवाई की जाती है तो मैं क्या कहूं।’ उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मेरे क्षेत्र में विकास कार्यों को आगे बढ़ा रहे हैं। साभार: जागरण डॉट कॉम


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें