bmc

मंगलवार को मुंबई नगर निगम ने एक विवादास्पद प्रस्ताव पारित किया हैं जिसके तहत योग और सूर्य नमस्कार को बीएमसी द्वारा चलाए जा रहे 400 उर्दू स्कूलों  सहित सभी नागरिक स्कूलों में अनिवार्य कर दिया गया हैं.

प्रस्ताव भाजपा पार्षद समिता कांबले द्वारा भेजा गया था. जिसके बाद सत्तारूढ़ पार्टी शिवसेना ने प्रस्ताव पर मतदान कराकर प्रस्ताव को पारित कर दिया गया. हालांकि विपक्षी दलों ने योग और सूर्य नमस्कार को वैकल्पिक बनाये जाने की मांग की थी.

इस फैसले से शहर में लगभग नगर निगम के 1,230 स्कूलों में पढ़ाई करने वालें 5.4 लाख छात्र प्रभावित होंगे. बीएमसी के अंतर्गत मुंबई में 1188 प्राथमिक और 49 माध्यमिक विद्यालय चलायें जाते है जिनमे लगभग 400 उर्दू माध्यम के स्कूल भी शामिल हैं.

बीएमसी के इस फैसले पर भाजपा पार्षदों ने दलील दी है कि सूर्य नमस्कार और योग को किसी भी तरह का धार्मिक रंग नहीं दिया जाना चाहिए. भाजपा पार्षद ने कहा, “यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार किया गया है कि योग व्यायाम का सबसे अच्छा तरीका है’


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें