अयोध्या। लगता है सपा को 2017 में जीत हासिल करने के लिए अब कोई भी तरीका अपनाने को तैयार है। अयोध्या में अपनी जमीन मजबूत करने के लिए सपा कुछ ऐसा कर रही है जिसकी अपेक्षा आमतौर पर संघ या बीजेपी से ही की जा सकती है। अयोध्या में सपा मुख्यमंत्री अखिलेश सिंह की बायोग्राफी बांट रही है और हर बायोग्राफी के साथ एक गीता भी बांट रही है।

माना जा रहा है कि सपा ऐसा ब्राह्मण वोटरों को साधने के लिए कर रही है। सपा के प्रदेश प्रवक्‍ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि मुझे जानकारी नहीं कि भगवत गीता बांटी जा रही है। अगर बांटी जा भी रही है तो इसमें क्‍या हर्ज है। हम धर्म के खि‍लाफ नहीं हैं। कई मौकों पर सीएम अखि‍लेश यादव और मुलायम सिंह धर्म की वकालत कर चुके हैं।

बता दें कि 6 दि‍संबर 1992 को बाबरी मस्‍जि‍द के वि‍वादास्‍पद ढांचे के गि‍रने के बाद 2012 में पहली बार सपा ने सीट पर कब्‍जा कि‍या। सपा के प्रत्‍याशी पवन पांडेय ने बीजेपी के लल्‍लू सिंह को 5,405 वोटों से हराया था।

यह गौरतलब है कि बीते दो साल में लगभग 5 माह से अधिक समय तक अयोध्या में मुलायम सिंह यादव के लिए यज्ञ करवाया गया। इस यज्ञ में धर्मेंद्र यादव से लेकर माताप्रसाद पांडेय, मंत्री राममूर्ति वर्मा समेत सूबे के कई मंत्री पहुंचकर आहूति‍ दे चुके हैं। (indiavoice)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें