simi-encounter-111

भोपाल सेंट्रल जेल से 8 सिमी सदस्यों की कथित फरारी और फिर शहर से 9 KM दूर अचारपुरा में पुलिस द्वारा सभी के कथित एनकाउंटर की जांच शुरू करते हुए विवार को एसआईटी ने भोपाल पुलिस कंट्रोल रूम से 31 अक्टूबर के दिन का पूरा वायरलेस लॉग को अपने कब्जें में ले लिया.

इस वायरलेस लॉग में सिमी सदस्यों की जेल  से कथित फरारी, उसके बाद पुलिस द्वारा उनका पीछा करना और फिर अंत में एनकाउंटर करने से जुड़े हुए सन्देश मौजूद हैं. इसके अलावा एसआईटी ने एनकाउंटर से जुड़े सभी ऑडियो और विडिओ की फॉरेसिंक जांच के लिए भेज दिया.

और पढ़े -   बीजेपी नेताओं को बचाने के लिए जफर के मामलें को रफादफा करने में जुटी वसुंधरा की पुलिस

साथ ही एसआईटी रविवार को भी खेजड़ादेव गांव पहुंची और एनकाउंटर के प्रत्यक्षदर्शी दो गवाहों के बयान भी दर्ज किए. जांच के दौरान अब तक एसआईटी कुल 15 लोगों के बयान दर्ज कर चुकी है.

इधर सिमी आतंकियों के एनकाउंटर के बाद जब्त किए गए चार कट्टों को फॉरेंसिक लैब भेजने के पहले उससे संबंधित प्रश्नों की सूची भी तैयार की गई.

और पढ़े -   बलात्कार कर की थी नाबालिग की हत्या, भीड़ ने आरोपी को पीट-पीट कर मारा डाला

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE