वाराणसी. कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने शनिवार को विद्यामठ में शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती से मुलाकात की। इस दौरान राम मंदिर को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, ”मै हिंदुत्व को नहीं मानता। हिंदू कोई धर्म नहीं। परसियन शब्द है। मैं और मेरा परिवार स्नातन धर्म को मानते हैं।”

‘कोई भी जा सकता है मंदिर’
-पुणे की शनि शिंगणापुर को लेकर दिग्विजय सिंह ने कहा-किसी भी मंदिर में कोई बंधन नहीं होना चाहिए।
-महिला हो या पुरुष सभी मंदिर में जा सकते हैं। जिसकी भी आस्था धर्म में हो वो मंदिर जा सकता है।
-कोई किसी भी धर्म का हो, आस्था हो तो उसे मंदिर जाने की इजाजत होनी चाहिए।
आरएसएस-बीजेपी पर हमला
-राहुल के भूख हड़ताल पर कहा-बीजेपी, आरएसएस एबीवीपी के जरिए देश की शिक्षण संस्थाओं पर कब्जा करना चाहते हैं।
-ये सभी दलित और गरीब विरोधी हैं। इसलिए राहुल गांधी के अनशन की आलोचना कर रहे हैं। (jantakiawaz)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE