लखनऊ.2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगों की सच्चाई अब बड़े पर्दे के माध्यम के जरिए लोगों तक पहुंचेगी। जी हां, दंगों की वजह से पूरी दुनिया में सुर्खियों में मुजफ्फरनगर पर अब फिल्म बनने जा रही है। इस फिल्म की शूटिंग 22 मार्च से शुरू होगी। शूटिंग जिले के आसपास के इलाकों की कई लोकशनों पर होगी।
riots
 फिल्म का टाइटल होगा ‘मुजफ्फरनगर-2013’। इसमें एक्टर देव शर्मा मुख्य किरदार निभा रहे हैं। देव शर्मा ने फिल्म यारियां में नील का चर्चित किरदार निभाया था। इसके अलावा साउथ की एक्ट्रेस ऐश्वर्या देवन भी इस फिल्म के जरिए हिंदी सिनेमा में कदम रख रही हैं। फिल्म के निर्देशक हरीश कुमार और निर्माता मनोज कुमार मांडी हैं।
निर्माता मनोज कुमार मांडी मुजफ्फरनगर जिले से हैं। उन्होंने दंगों को काफी करीब से देखा है। उन्होंने फिल्म की कहानी लिखने के अलावा संगीत और गाने भी तैयार किया है। एक्टर देव शर्मा मुजफ्फरनगर के करीब मोराना गांव के युवक मन्नू की किरदार निभा रहे हैं। इसके अलावा फिल्म में एकांश भारद्धाज, अनिल जार्ज, मुर्सलीन कुरैशी, संदीप बोस, रवि खन्ना और सुनील चितकारा भी खास भूमिका में हैं।
2013 में हुए थे मुजफ्फरनगर दंगे
साल सितंबर 2013 में मुजफ्फरनगर में हुए साम्प्रदायिक दंगों में कम से कम 62 लोग मारे गये थे तथा सैकड़ों अन्य घायल हो गये थे। इन दंगों की वजह से अखिलेश सरकार कठघरे में खड़ी हो गई थी। इन दंगों की आग सहारनपुर, शामली, बागपत तथा मेरठ तक फैली थी।
सरकार ने दंगों से पहले हुए कवाल काण्ड से लेकर नौ सितम्बर 2013 तक घटित घटनाओं की जांच के लिये इलाहाबाद उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश विष्णु सहाय की अध्यक्षता में एकल सदस्यीय जांच आयोग का गठन किया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि स्थानीय नेताओं ने ही आग में घी डाला था। आयोग ने समाजवादी पार्टी (सपा) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के स्थानीय नेताओं की भूमिका का जिक्र किया गया है। (Patrika)
और पढ़े -   देश की एकता और अखंडता खतरे में, हर तरफ दलितों और मुसलमानों पर हो रहे हमले

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE