तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने 9 साल के एक बच्चे को पार्टी के पोस्‍टर से पतंग बनाने पर इतनी बुरी तरह पीटा कि उसे चितरंजन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराना पड़ा। पांचवीं क्लास में पढ़ने वाला शहील मोल्लाह गरीब परिवार से है। उसके पिता की आमदनी सिर्फ 3,000 रुपए महीने है।

शहील ने बताया कि वह अपने दोस्तों के साथ खेल रहा था जब उसने हवा से फट चुके उस पोस्टर को देखा तो उसे लगा इससे एक अच्छी पतंग बनाई जा सकती है। उसे टीएमसी के कुछ कार्यकर्ताओं ने पोस्टर उतारते हुए देख लिया, जिसके बाद वह उसे पकड़ कर कथित तौर पर टीएमसी के कद्दावर नेता ऐजुल सरदार के पास ले गए।

और पढ़े -   महाराष्ट्र में देनी होगी कुर्बानी की पूरी जानकारी, BMC लाई स्पेशल 'बकरा ऐप'

सरदार ने शहील को बुरी तरह पीटा। शहील ने बताया, “मैं उन्हें लगातार बताता रहा कि मैं बस पोस्टर से पतंग बनाना चाहता था, पर उन्होंने मेरे हाथ बांध दिए और मुझे लात-घूंसों से पीटा। जो आखिरी बात मुझे याद है वह यह कि उन्होंने मुझसे कहा कि अपने पिता से कहना कि ‘हम तुझे और तेरे पिता दोनों को मार डालेंगे’।”

और पढ़े -   जानिए: चांद खान के बारे में, जो हर साल घर पर लहराते है तिरंगा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE