फिल्म अभिनेता संजय दत्त पुणे की यरवदा जेल से रिहा हो गए हैं. वे सबसे पहले मुंबई में अपनी मां की कब्र और फिर सिद्धि विनायक मंदिर दर्शन करने जाएंगे.

Exclusive: संजय दत्त ने रिहाई के लिए इस दरगाह पर मांगी थी मन्नत

हालांकि, संजय दत्त का इंतजार मध्यप्रदेश के नीमच की बाबा शाहबुद्दीन की दरगाह को भी होगा, क्योंकि टाडा मामले में गिरफ्तारी के पहले 10 अप्रैल 2013 को वे अपने ख़ास फैन अल्ताफ के इसरार पर नीमच शाहबुद्दीन दरगाह पर आये थे. जहां अभिनेता संजय ने अकीदत के फूल चढ़ाये थे और मन्नत की चादर भी पेश की थी.

अब नीमच में संजय दत्त के फैंस अपने पसंदीदा अभिनेता के आने के इंतजार में आस लगाकर बैठे हैं. दरअसल, बॉलीवुड के मशहूर अभि‍नेता संजय दत्त आर्म्स एक्ट मामले में अपनी सजा पूरी करने के बाद गुरुवार को पुणे की यरवदा जेल से रिहा हो गए हैं.

वह मुंबई सीरियल धमाकों में अवैध हथियार रखने के दोषी पाए गए थे. लिहाजा, जेल में अच्छे बर्ताव के चलते उन्हें सजा की मियाद पूरी होने के (5 साल) से 8 महीने पहले ही रिहा कर दिया है. (pradesh18)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें