धर्म नगरी हरिद्वार में साध्‍वी का रेप करने वाले आश्रम संचालक संत रघुनन्दन दास महाराज को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. साध्‍वी ने पुलिस को दिए बयान में आरोप लगाया था कि आरोपी संत उसे जबरन गर्भपात कराने के लिए मजबूर कर रहा है.

पीड़िता साध्‍वी ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि आश्रम में रहने वाले संत ने उसके साथ जबरदस्‍ती बलात्‍कार किया. उसने बताया कि विरोध करने पर उसे बंधक बनाकर रखा गया और मारपीट भी की गई. पीड़िता ने बताया कि संत उसे गर्भपात कराने के लिए मजबूर कर रहा है और वह किसी तरह उसके चंगुल से बचकर भागी है.

और पढ़े -   गुजरात में स्वाइन फ्लू का कहर, मरने वालों की संख्या पहुंची 242 तक

इस घटना के बाद से आरोपी संत रघुनन्दन दास महाराज फरार चल रहा है. पुलिस ने शनिवार को संत रघुनन्‍दन को गिरफ्तार कर लिया है.

बताया जा रहा है कि साध्वी ने करीब दो साल पहले पंजाब से हरिद्वार के ब्रह्मपुरी स्थित रामजानकी आश्रम में आई थी. आश्रम के संचालक रघुनन्दन दास महाराज ने इसके साथ कई बार रेप किया. जब वह गर्भवती हो गई तो वह उस पर गर्भपात कराने का दबाव बनाने लगा.

और पढ़े -   सृजन घोटाला: बीजेपी नेता के घर पर छापा, 3 अरब की संपत्ति का हुआ खुलासा

साध्वी का आरोप है कि वह इसे आश्रम में बंधक बनाकर रखता है और मारपीट करता है. बुधरात रात को भी आरोपी संत ने उसके साथ मारपीट की. पीड़िता साध्‍वी ने बताया कि वह बच्‍चे को जन्‍म देना चाहती है और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रही है.

इलाके में रहने वाले लोगों का कहना है कि आरोपी संत ने कुछ साल पहले अपनी पत्नी की हत्या की थी, जिसके बाद वह जेल चला गया था. लोगों का कहना है कि आश्रम में गुंडे रहते हैं और प्रशासन को इसकी जांच कर आश्रम को सील करना चाहिए. आज भी पड़ोस में रहने वाले एक युवक ने बदहाल हालात में साध्वी को कोतवाली पहुंचाया. (pradesh18)

और पढ़े -   राम मंदिर तोड़कर बनाई थी बाबरी मस्जिद, अब बने रामलला का मंदिर: शिया वक्फ बोर्ड

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE