11_02_2016-marriage

आगरा- देश में सैकड़ो वर्षों से विभिन्न धर्मों के लोग आपस में रहते हुए आये है ऐसे में हिन्दू का मुस्लिम के घर ईद के लिए जाना, मुस्लिम का हिन्दू को दिवाली की मिठाई देना, यह सब बहुत सामान्य सी बात है. जब दोनों समुदाय के लोग साथ रहते है तब ज़ाहिर सी बात है उनमे आपस में मेलजोल भी बढेगा. ऐसा ही मेलजोल कभी कभार युवाओं में प्रेम का कारण भी बन जाता है.

लोकसभा चुनाव के समय लव जिहाद का जिन्न काफी अफरा तरफी मचा चूका है लेकिन जितने भी दावे लव जिहाद को लेकर किये गये सभी फुस्स हो गये. ऐसे में आगरा में फिर एक बार अंतर्धार्मिक विवाह को लेकर हंगामा किया गया है.

क्या है मामला 

थाना शाहगंज के एक मुस्लिम युवक का प्रेम प्रसंग हिन्दू युवती से था जिस कारण दोनों काफी दिनों से शहर से गायब थे.

सोमवार को वह कोर्ट मैरिज के लिए आगरा दीवानी पहुंचा तो वहां लड़की पक्ष के वकील ने उन्हें देख लिया। इसकी सूचना लड़की के परिवार वालों को दे दी। बताया जाता है कि दोनों हाई कोर्ट के निर्देश पर स्थानीय अदालत में अपना पक्ष रखने आए थे, जबकि रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस युवक को तलाश रही थी।

युवती के परिजन बड़ी संख्या में दीवानी पहुंच गए। किसी ने बजरंग दल को भी खबर कर दी। संगठन के कई लोग भी वहां आ पहुंचे और नसीम अहमद के चेंबर को घेर लिया। चेंबर खुलवाने की कोशिश में वकील यामीन कादरी के साथ मारपीट की गई। लड़के पक्ष के लोगों के आते ही बवाल होने लगा। दीवानी परिसर में जमकर पथराव हुआ। ईंट पत्थर फेंके गए।

मौके पर कई थानों की फोर्स पहुंच गई और हालात को काबू में किया। लड़की पहले से विवाहित है, लेकिन उसका कहना है कि उसने पहले अपनी मर्जी से युवक से शादी कर ली थी। यह बात उसने अपने परिजनों को भी बता दी थी। इसके बावजूद भी घरवालों ने जबरन उसकी दूसरी जगह शादी कर दी।

सोमवार को दीवानी परिसर में शादी के लिए पहुंचे मुस्लिम और हिंदू प्रेमी जोड़े के परिजनों, वकीलों और हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झड़प और पत्थरबाजी हुई। जय श्री राम के नारों के साथ पुलिस की गाड़ियों पर भी पथराव किया गया।

 


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें