geh

कोटा जिले के सांगोद कस्बे में महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर वसुंधरा सरकार द्वारा महात्मा गांधी की प्रतिमा को हटाने के मामले को लेकर कांग्रेस ने आर-पार की लड़ाई की ठान ली हैं.

पुलिस में शिकायत दर्ज होने के बाद भी कोई कारवाई नहीं होने से नाराज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गांधी जयन्ती के दिन सर्वधर्म प्रार्थना सभा का आयोजन किया जिसमे पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी शामिल हुए.

इस दौरान पूर्व गृह मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि आरएसएस ने इस देश में गांधी को कभी स्वीकार नहीं किया और इन लोगों ने ही गांधी को मारा और अब बापू का अपमान कर रहे हैं. धारीवाल ने आगे कहा कि महात्मा गांधी के अपमान के मुकदमे पर बीजेपी राज में कार्रवाई नहीं हुई तो ढाई साल बाद सत्ता में आकर हम ये काम करेंगे.

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी पर गांधी के नाम का इस्तेमाल करने का आरोप लगाते हुए कहा आजकल तो ये लोग सोशल मीडिया पर नेहरू को बदनाम करने में लगे हैं. किसी दिन इनको फायदा लगा तो ये गांधी की तरह सत्ता में आने के लिए नेहरू का भी इस्तेमाल कर लेंगे. इसलिए बीजेपी एक सांप्रदायिक दल है जिसकी कथनी और करनी में बङा फासला हैं और ये जुमले गढ़कर सत्ता में आ जाते हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें