ressure-exerted-in-religion-to-take-work

पांच हजार रुपए की लालच में लोगों का धर्मांतरण कराने वाले झोलाछाप डॉक्टर को बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को दबोच लिया और उसे पीटने के बाद सिर, मूछें और भौंहे मुड़वाकर उसे गधे में बैठाकर उसका जुलूस निकाला।

जानकारी मिलते ही मौके पर कई थानों का फोर्स और पीएसी दल पहुंच गया। जैसे ही पुलिस ने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को रोका तो कार्यकर्ता पुलिस पर भड़क उठे और भिड़ गए। मामला बिगड़ता देख एसपी एन कोलांचि ने लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देकर उसे किसी अज्ञात जगह ले गए।

गरीबों को चंद रुपयों की लालच देकर धर्म परिवर्तन कराने का मामला उजागर होते ही शुक्रवार को शहर में बवाल हो गया। बजरंग दल संयोजक अखिलेश डीहा, अजय तिवारी, गोल्टू, क रुणेंद्र चौहान के नेतृत्व में हजारों कार्यकर्ताओं ने थाना व ग्राम रेंढ़र निवासी आरोपी अवधेश सविता को पकड़कर उसके बाल, मूछें और भौंहें मुड़वा गधे पर बैठा अंबेडकर चौराहे से जुलूस निकाला। पकड़े गए आरोपी ने स्वीकार किया कि उसने अभी तक छह-सात लोगों के धर्म परिवर्तन कराए हैं और एक धर्म परिवर्तन कराने पर उसे पांच हजार रुपए मिलते हैं।

गरीबी से जूझ रहे लोगों को पैसे के लालच में फंसाकर वह बनारस के पास कछुआ गांव में ले जाता था जहां के चर्च में पूरी धर्मांतरण की प्रक्रिया होती थी और लोगों को ईसाई बनाया जाता था।

और पढ़े 14 साल की लड़की को 22 घंटों में 110 आदमियों के साथ सेक्स करने पर किया गया मजबूर

पूरे प्रकरण में उग्र हुए बजरंग दल व अन्य हिन्दू संगठनों के तेवरों को देखते हुए कई थानों की फोर्स व पीएसी को मौके पर बुलाया गया और आरोपी को हिरासत में लेने को लेकर पुलिस व बजरंग दल कार्यकर्ताओं में झड़पें भी हुईं।

मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक एन कोलांचि ने उग्र कार्यकर्ताओं को समझाकर कड़ी कार्रवाई के आश्वासन के साथ ही आरोपी युवक को हिरासत में लिया और उसे अज्ञात स्थान पर भेजा गया है। शहर का माहौल गर्म देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस व पीएसी को यहां तैनात किया गया है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें