oxy

मध्य प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल इंदौर के एमवाय अस्पताल में लापरवाही के बाद मानवता को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है. ऑपरेशन थियेटर में ऑक्सीजन की जगह एनिस्थीसिया के लिए इस्तेमाल की जाने वाली नाइट्रस आक्साइड दिए जाने से 2 बच्चों की मौत हो गयीं हैं. इस मामले में पीडब्ल्यूडी विभाग के टेक्निशियन के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

और पढ़े -   बिहार: 700 करोड़ के सृजन घोटाला में आया बीजेपी नेता विपिन शर्मा का नाम

एमवाईएच के प्रभारी अधीक्षक डॉ. सुमित शुक्ला ने बताया कि अस्पताल में 27 मई को हर्निया की सर्जरी के दौरान आयुष (5) की मौत हो गई। इसके बाद 28 मई को लिंग की विकृति के ऑपरेशन के दौरान राजवीर (1) की तबीयत बुरी तरह बिगड़ जाने के बाद मौत हो गयी।

दोनों मामलों के मद्देनजर जब एमवाईएच प्रशासन ने जांच की तो पता चला कि ऑपरेशन थियेटर में जिस पाइप से ऑक्सीजन आनी चाहिए, उससे नाइट्रस ऑक्साइड की आपूर्ति की जा रही थी। अस्पताल प्रबंधन की ओर से की गई शिकायत पर ऑपरेशन थिएटर में पाइप लाइन बिछाने वाले ठेकेदार राजेंद्र चौधरी को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया. उसके खिलाफ लापरवाही और गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है.

और पढ़े -   गोरखपुर में हुई बच्चों की मौतों को लेकर महाराष्ट्र में प्रदर्शन

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE