जालंधर जालंधर में सूर्यास्त के बाद और सूर्योदय के पहले गायों को गाड़ियों में ले जाने और ले आने पर पाबंदी की घोषणा करते हुए जिलाधिकारी ने कहा है कि जिले में जिन लोगों के पास गौधन है उन्हें पशुपालन विभाग में उसका पंजीयन कराना जरूरी है। जालंधर के जिलाधिकारी केके यादव ने बताया कि गौ मालिकों को जिला पशुपालन विभाग में अपने गायों का अब पंजीयन कराना होगा और उन्होंने एक आदेश के तहत इसे जरूरी कर दिया है।

गाय का रजिस्ट्रेशन होगा अनिवार्य, लावारिस मिलने पर होगी कार्रवाई

जिला पशुपालन अधिकारी को इसे यकीनी बनाने का भी निर्देश दिया गया है। दूसरी ओर जिलाधिकारी ने यह भी बताया कि उन्होंने धारा 144 का इस्तेमाल करते हुए सूर्यास्त के बाद और सूर्योदय से पहले गौधन की ढुलाई पर पाबंदी लगा दी गई है। यह पाबंदी आठ जनवरी से सात मार्च तक प्रभावी रहेगी।

जिलाधिकारी कार्यालय के सूत्रों से मिली जानकारी में कहा गया है कि गायों के पंजीकरण के दौरान उसका एक नंबर निर्धारित किया जाएगा और इसका टैग गायों पर लगेगा। इस नंबर के आधार पर उसके मालिक की पहचान की जाएगी और जिस नंबर की गाय सडकों पर लावारिस घूमती दिखाई देगी अथवा परित्यक्त मिलेगी उस मालिक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। साभार: ibnlive


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें